IIT दिल्ली और जामिया समेत करीब 6000 संस्थान नहीं ले सकेंगे विदेशी चंदा, जानें क्या है वजह

नईदिल्लीआईआईटीदिल्ली,जामियामिल्लियाइस्लामिया,इंडियनमेडिकलएसोसिएशन(आईएमए)औरनेहरूस्मारकसंग्रहालयउन6,000संस्थानोंमेंशामिलहैं,जोफिलहालविदेशोंसेचंदानहींलेसकेंगे।इनसंस्थानोंकाविदेशीचंदालेनेकेलिएजरूरीएफसीआरएरजिस्ट्रेशनशनिवारकोखत्महोगया।विदेशसेचंदालेनेकेलिएकिसीभीसंगठनयाएनजीओकेआलिएएफसीआरएरजिस्ट्रेशनअनिवार्यहोताहै।फसीआरएकेतहतरजिस्ट्रेशनखत्महुआजिनसंगठनोंकाएफसीआरएकेतहतरजिस्ट्रेशनखत्महुआहै,उनमेंइंदिरागांधीराष्ट्रीयकलाकेंद्र,भारतीयलोकप्रशासनसंस्थान,लालबहादुरशास्त्रीमेमोरियलफाउंडेशन,लेडीश्रीरामकॉलेजफॉरवुमन,दिल्लीकॉलेजऑफइंजिनियरिंगऔरऑक्सफैमइंडियाशामिलहैं।इसकेअलावा,मेडिकलकाउंसिलऑफइंडिया(एमसीआई),इमैनुएलहॉस्पिटलअसोसिएशन,हमदर्दएजुकेशनसोसायटी,दिल्लीस्कूलऑफसोशलवर्कसोसायटी,भारतीयसंस्कृतिपरिषद,डीएवीकॉलेजट्रस्टऐंडमैनेजमेंटसोसायटी,इंडियाइस्लामिककल्चरलसेंटर,दिल्लीपब्लिकस्कूलसोसायटी,जेएनयूमेंन्यूक्लियरसाइंससेंटरऔरइंडियाहैबिटेटसेंटरभीउनसंगठनोंमेंहैं,जिनकाएफसीआरएरजिस्ट्रेशनखत्महोगया।गृहमंत्रालयनेकीएमनेस्टीद्वाराएफसीआरएउल्लंघनकीजांचकीशुरूआतअब16,829संगठनहीएफसीआरएरजिस्टर्डशुक्रवारतक22,762एफसीआरएरजिस्टर्डएनजीओथे।शनिवारकोयहआंकड़ाघटकर16,829होगयाक्योंकि5,933एनजीओनेकामकाजबंदकरदिया।अधिकारियोंनेबतायाकिइनसंस्थानोंनेयातोअपनेएफसीआरएलाइसेंसकोरिन्यूकरानेकेलिएआवेदनहीनहींकियायाकेंद्रीयगृहमंत्रालयनेउनकेआवेदनोंकोखारिजकरदिया।अबइनकारजिस्ट्रेशनशनिवार(1जनवरी)कोखत्ममानागयाहै।2,989संगठनोंनेएफसीआरएलाइसेंसरिन्यूकेलिएदियाथाआवेदनएफसीआरएकेतहतपंजीकृतगैरसरकारीसंगठनों(एनजीओ)औरइसकेसहयोगियोंकीगतिविधियोंकानियमनकरनेवालेकेंद्रीयगृहमंत्रालयकेअधिकारियोंनेकहाकिअधिनियमकेतहतपंजीकरणशनिवार(1जनवरी)कोसमाप्तमानागयाहै।विदेशीचंदाप्राप्तकरनेकेलिएकिसीभीसंगठनऔरएनजीओकेलिएएफसीआरएपंजीकरणअनिवार्यहै।अधिकारियोंनेबतायाकि18,778संगठनोंकेएफसीआरलाइसेंस29सितंबर2020से31दिसंबर2021केबीचसमाप्तहोरहेथे।उनमेंसेकरीब12,989संगठनोंनेएफसीआरएलाइसेंसनवीनीकरणकेलिए30सितंबर2020से31दिसंबर2021केबीचआवेदनदियाथा।