हरियाणा में ये कैसा अंधविश्वास, माता-पिता ने अपने एक माह के बच्‍चे को मंदिर में चढ़ाया, पुलिस ने करवाया वापस

हिसार/हांसी[मनप्रीतसिंह]।केवलएकमहीनेकानवजातबच्चा,दुनियामेंआनेकेबादजिसकीआंखेभीठीकसेअभीनहींखुलीहैउसकेभविष्यकाफैसलाकरतेहुएअंधविश्वासमेंडूबेमातापितानेसाधुत्वकेलिएसाधूओंकोदानकरदिया।लेकिनपूरेमामलेकीपुलिसकोभनकलगगईऔरसमयरहतेकार्रवाईकरतेहुएएकमासूमबच्चेकाभविष्यबचालियागया।

येपूरामामलाहरियाणाकेहिसारजिलेकेहांसीशहरमेंस्थितसमाधामंदिरकाहै।शहरकेडडलपार्कक्षेत्रनिवासीएकमाता-पितानेअपनेजिगरकेटुकड़ेएकमहीनेकेछोटेबच्चेकोमंदिरमेंमंहतोंकेसानिध्यमेंचढ़ादिया।इसरस्मकोपूराकरनेकेलिएमंदिरमेंकाफीसंख्यामेंबाबावआसपासकेलोगजुटेथेऔरबाकायदापूरेकार्यक्रमकीफोटोग्राफीभीकरवाईगई।मंदिरमेंबच्चाचढ़ानेकीसारीप्रक्रियाएंपूरीहोचुकीथीऔरदूर-दराजसेआएमहंतोंनेमंत्रोचरणकरतेहुएबालककानामकरणनारायणपुरीकरदिया।

इसीदौरानपुलिसमंदिरमेंपहुंचगई।दरअसलहुआयूंकिएकमामलेकीजांचकेलिएपुलिसमंदिरकेसीसीटीवीफुटेजलेनेपहुंचीथीऔरपुलिसकोबच्चादानकरनेकेमामलेकीभनकलगगई।पुलिसकर्मचारियोंनेतुरंतपूरेमामलेसेबड़ेपुलिसअधिकारियोंकोअवगतकरवाया।जिसकेबादएसपीनितिकागहलोतअलर्टहुईऔरएसएचओकोमामलेमेंकार्रवाईकेनिर्देशदिए।

एसपीकेआदेशमिलतेहीपुलिसनेदोनोंपक्षोंकोथानेमेंतलबकरलिया।दोनोंपक्षोंसेकाफीसंख्यामेंलोगचौकीमेंएकत्रितहोगए,लेकिनपुलिसनेपूरीसंवेदनशीलतासेमामलेकोसंभालतेहुएपरिवारकोसमझायाकिइसप्रकारसेछोटेबच्चेकोकिसीव्यक्ति,मंदिरयासंस्थाकोनहींदियाजासकताऔरयेगैर-कानूनीहै।मंदिरप्रशासनसेजुड़ेलोगोंकोभीपुलिसनेइसमामलेनियम-कायदोंकोपूरीजानकारी।आखिरपरिवारकेसदस्यमानगएवबच्चोकोवापिसलेलिया।पुलिसनेमंदिरप्रशासनसेजुड़ेमहंतकोभीसख्तचेतावनीदीहै।पुलिसकार्रवाईकीगाजगिरतेदेखपरिवारनेबच्चेकीपरवरिशकाआश्वासनदिया।

मंदिरमेंमौजूदथेगणमान्यलोग

समाजसुधारमेंएकजिम्मेदारीनेताओंकीभीहोतीहै,लेकिनहैरतकीबातहैकिमंदिरमेंकईनेताभीबच्चेकोमंदिरकेसुपुर्दकरनेकीरस्मकेसमयहाजिरथे।इननेताओंनेभीपरिवारकोसमझानेकीजहमतनहींउठाईऔरपरंपराकेनामपरसबदेखतेरहे।

अंधविश्वासवआस्थामेंफर्क

सोशलएक्टिविस्टोंनेकहाकिकिसीमंदिर,ईश्वरयाव्यक्तिमेंआस्थाहोनाअच्छीबातहैऔरप्रत्येकव्यक्तिकोदूसरेव्यक्तिकीआस्थाकासम्मानकरनाचाहिए,लेकिनइसप्रकारसेमासूमबच्चेकोसाधुत्वकेलिएसौंपनाजायजनहींहै।जिसबच्चेकोदुनियामेंआएमहजकुछदिनहुएहैंउसकीजिंदगीकाफैसलापरिवारकैसेलेसकताहै।कोईभीबच्चाबालिगहोनेकेबादअपनीजिंदगीकानिर्णयलेनेकेलिएस्वतंत्रहै।

अगलेमहीनेचढ़नाथाएकऔरबच्चा

मंदिरकेगदीनशीनमहंतपांचमपुरीनेबतायाकिमंदिरमेंपरिवारकेलोगअपनीमन्नतपूरीहोनेपरस्वेच्छासेबच्चाचढ़ातेहैं।उन्होंनेबतायाकिएकमहीनेबादएकऔरपरिवारद्वाराबच्चामंदिरमेंचढ़ायाजानाहै।लेकिनपुलिसकीकार्रवाईकेबादमंदिरप्रशासनइसपूरेप्रकरणमेंशांतहै।इससेकुछमहीनेपूर्वभीमंदिरमेंएकबच्चाऐसेहीएकपरिवारनेदानकियाथा,जिसकानामपूनमपुरीरखागयाहै।

बच्चेकेभीअधिकारहैं

कानूनमेंबच्चेकेभीअधिकारसुनिश्चितहैं।बच्चेके18वर्षतकपरवरिशकीजिम्मेदारीमाता-पिताकीहै।इसप्रकारसेबच्चेकोदानकरनाजुवेनाइलजस्टिसएक्टवबच्चोंकोसंरक्षणकेलिएबनेकईअन्यएक्टकाउल्लंघनहै।बच्चोंकोसंरक्षणकेलिएकानूनमेंकाफीसेफगार्डहैंववर्तमानमेंतोगोदलेनेकेनियमोंकोभीसरकारनेकाफीसख्तकरदियाहै।-अर्जुन,अधिवक्ता,पंजाबएवंहरियाणाहाईकोर्ट

पुलिसनेचेतावनीदीहै

मंदिरमेंछोटाबच्चादानदेनेकामामलासंज्ञानमेंआयाथा।मासूमबच्चेकोइसप्रकारसेबगैरकानूनीप्रक्रियाओंकेकिसीकोसौंपनागलतहै।बच्चेकेमाता-पिताकोपुलिसनेसमझायाहै।बच्चेकेपालन-पोषणकरनेकीजिम्मेदारीमाता-पिताकोहोतीहै।परिवारकोचेतावानीदीगईहैकिभविष्यमेंऐसीशिकायतमिलनेपरपुलिससख्तकार्रवाईकरेगी।-नितिकागहलोत,एसपी

दोनोंपक्षोंकोतलबकिया

पुलिसनेदोनोंपक्षोंकोचौकीमेंतलबकिया।बच्चेकेपरिवारनेकहाकिवहतोमंदिरमेंपूजाकरनेगएथे।लेकिनपुलिसनेलिखितमेंपरिवारसेआश्वासनलियाहैकिवहबच्चेकापालनपोषणकरेंगे।मंदिरप्रशासकोभीइसबारेमेंचेतावानीदीगईहै।-वेदपालनैन,इंचार्ज,सिसायपुलपुलिसचौकी