हर सरकारी स्कूल में बनेगा किचन गार्डन, मिड-डे मील में खुद उगाई फल-सब्जियां खाएंगे छात्र

लखनऊ. उत्तरप्रदेशकेसरकारीस्कूलोंमेंपढ़नेवालेबच्चेमिडडेमीलकेलिएफल-सब्जियांउगाएंगेऔरखाएंगे।मानवसंसाधनविकासमंत्रालय(एमएचआरडी)नेउत्तरप्रदेशकेसभीसरकारीस्कूलोंकोनोटिसजारीकरकेयहनिर्देशदियाहै।मंत्रालयनेइसयोजनाकानाम‘किचनगार्डन’रखाहै।इसमेंआठवींकक्षातककेछात्रहिस्सालेंगे।

शिक्षाविभागकेएकअधिकारीनेकहा-जबबच्चेअपनेहाथसेसब्जीऔरफलपैदाकरनेकेलिएमेहनतकरेंगेतोसब्जीऔरफलकास्वादअलगहोगा।क्योंकियहउनकीमेहनतकाफलहैतोवेइससेजुड़पाएंगे।इसयोजनाकाउद्देश्यमिडडेमीलकेपोषकमूल्यकोबढ़ावादेनाहै।साथहीपौधे,सब्जियोंऔरफलोंकोउगाकरकृषिमेंबच्चोंकोप्रोत्साहितकरनाहै।

मिनिस्ट्रीकेनिर्देशोंकेमुताबिक,जिनस्कूलोंकेपासपौधेउगानेकेलिएपर्याप्तजमीननहींहै।वहछतपरबगीचेकानिर्माणकरसकतेहैंऔरउपजकीखेतीकेलिएगमले,कंटेनर,बैगऔरअन्यतकनीकइस्तेमालकरसकतेहैं।बच्चोंद्वारारसोईबनानेमेंस्कूलकेकर्मचारीऔरशिक्षकउनकीमददकरेंगे।