होडल चौक पर बने गड्ढे हादसों को दे रहे न्योता

जागरणसंवाददाता,नूंह:

होडलचौकेपरबनेगड्ढेहादसोंकोन्योतादेरहेहैं।लेकिनपीडब्ल्यूडीविभागकाइसओरध्यानहीनहींहै।चौककेचौराहेकेबीचोंबीचनेइनगड्ढोंसेआएदिनवाहनचालकदुर्घटनाओंकाशिकारहोरहेहैं।विशेषबाततोयहहैकिनूंहकीनईअनाजमंडीकेसमीपहोडलचौकहै।अनाजमंडीमेंआएदिनमंत्रियोंवबड़े-बड़ेनेताओंकीरैलीहोतीरहतीहैं।इसदौरानपीडब्ल्यूडीविभागइनगड्ढोंकोमिट्टीडालकरभरदेताहै।लेकिनवाहनोंकीआवाजाहीसड़कमेंदोबारागड्ढेहोजातेहैं।जोदोपहियावाहनचालकोंकेलिएदुर्घटनाकासबबबनतेहैं।

बतादें,किनूंहकाहोडलचौकसबसेव्यस्तचौकमेंसेएकहै।यहांसेहोडल,मथुरा,पलवल,फिरोजपुरझिरका,गुरुग्रामवदिल्लीकेलिएवाहनजातेहैं।इसचौकपरट्रैफिकलाइटतोलगीहुईहै,लेकिनवहभीवर्षोंसेखराबपड़ीहै।जिससेयहांयातायातनियमकोलगातारअवहेलनाहोतीहै।रहीसहीकसरअबचौकपरबनेगड्ढोंनेपूरीकरदीहै।ऐसेमेंयहांदुर्घटनाएंभीबढ़गईहैं।आपाधापीकेचक्करमेंवाहनचालकइनगड्ढोंमेंफंसकरदुर्घटनाकाशिकारहोरहेहैं।हबीब,तालिम,मुकीम,जाकिर,उसमान,मुबीन,फारूखसहितकईवाहनचालकोंनेबतायाकिवेहोडलचौकसेहीहोकरबाजारकीतरफजातेहैं।वाहनोंकीभीड़होनेकेकारणकोईनकोईवाहनगड्ढोंमेंफंसकरदुर्घटनाकाशिकारहोतारहताहै।बारिशकेमौसममेंहालातऔरभीखराबहोजातेहैं।उपायुक्तसेलेकरदूसरीप्रशासनिकअधिकारीतकइसचौकसेगुजरतेहैं,लेकिनकिसीकाभीध्यानइनगड्ढोंकीतरफनहींजाता।उन्होंनेजिलाप्रशासनसेमांगकरतेहुएकहाकिजल्दसेजल्दहोडलचौकपरबनेगड्ढोंकोभरवायाजाए।