गुजारा के लिए कभी चुनाव में लगाते थे पोस्‍टर, अब IAS बन पेश किया मिशाल

फरीदाबाद[सुशीलभाटिया]।बल्लभगढ़कीनिम्नवर्गीयलोगोंकीसुभाषकॉलोनीकानिवासीसचिनकुमार।यहवोनामहै,जिसकेबेहदकठिनऔरसंघर्षपूर्णजिंदगीकेपन्नोंकोखंगालाजाए,तोबॉलीवुडकीहिटफिल्मकीस्क्रिप्टलिखीजासकतीहै।उसकेपितानहींहैंऔरमांघरोंमेंकामकरकेचारबेटोंकेपरिवारकालालन-पालनकररहीहै।

बीमारपिताअस्पतालमेंभर्तीरहे,तोभीअपनेलक्ष्यकोहासिलकरनेकेलिएउनकेबेडकेपासबैठकररातभरपढ़ाईकीऔरजबपिताकानिधनहोगया,तोचारभाइयोंमेंसबसेबड़ाहोनेकेनातेपरिवारकेभरण-पोषणकीभीजिम्मेदारीआनपड़ी।ऐसेमेंचुनावमेंप्रत्याशियोंकेएकरुपयेप्रतिपोस्टरकामेहनतानाकेसाथरातभरपोस्टरलगाए।

वर्ष2012मेंहरियाणाविद्यालयशिक्षाबोर्डकीदसवींकीपरीक्षामें500मेंसे493अंकहासिलकरप्रदेशभरमेंदूसरेनंबरकेटॉपररहेइसीसचिननेअबसंघलोकसेवाआयोगकीपरीक्षाउत्तीर्णकरआइएएसअधिकारीबननेकीदिशामेंकदमबढ़ाएहैं।रावलकान्वेंटस्कूलसे12वींतककीपढ़ाईकरनेवालेसचिनकुमारनेयूपीएससीकीपरीक्षामेंपहलेहीप्रयासमें400वींरैंकहासिलकीहै,लेकिनअनुसूचितजातिसेताल्लुकरखनेकेचलतेउनकाआइएएसमेंचयनहोसकताहै।

दैनिकजागरणसेबातचीतमेंभावुकहुएसचिननेबतायाकिसातसालपहलेउनकेपिताकानिधनहोगयाथा।इसपरपरिवारकोपालनेकीजिम्मेदारीमांपरआनपड़ी।उनसेतीनछोटेभाईसुमित,अरविंदऔरबिट्टूहैं,जोअभीपढ़रहेहैं।ऐसेमेंमांनेघरोंमेंकामकिया,तोउसनेस्वयंपिछलेचुनावमेंदीवारोंपरपोस्टरलगानेकाकामकरनेसेगुरेजनहींकिया।उसेचूंकिपढ़नाथा,इसीलिएमांनेभीदिनरातएककिया,कर्जभीलिया।

मामानेकियाआइएएसबननेकेलिएप्रेरित12वींकीपरीक्षा80.4फीसदअंकोंकेसाथपासकरइंजीनियरिंगकीतैयारीकीऔरआइआइटीदिल्लीमेंकंप्यूटरइंजीनियरिंगमेंदाखिलामिलगया,पररिश्तेकेमामाओडिशासरकारमेंतैनातअधिकारीविशालदेवनेयूपीएससीकीतैयारीकेलिएप्रेरितकिया।सचिनकहतेहैंकिजबइंजीनियरिंगकररहेथे,तबउसकेपासएकअच्छीशर्टखरीदनेकेभीपैसेनहींथे,परमुफलिसीकेनिराशासेभरेपलोंकोअपनेलक्ष्यपरहावीनहींहोनेदिया।नतीजासबकेसामनेहै।

समाजकेदबेकुचलेलोगोंकीमददकरनेकीचाहसचिनअबआइएएसअधिकारीबनकरसमाजकेदबेकुचलेयुवाओंकी,जरूरतमंदगरीबोंकीमददकरनावसरकारकीआमगरीबलोगोंकेउत्थानकेलिएशुरूकीगईयोजनाओंकालाभपहुंचानाचाहतेहैं।अपनेजैसेयुवाओंकेनामसंदेशमेंसचिनकहतेहैंकिपरिस्थितियांकैसीभीहों,हारनहींमाननीचाहिए।उसीमेंढलें,लक्ष्यप्राप्तिकेलिएमेहनतकरें,मेहनतरंगलातीहै।

रावलकान्वेंटस्कूलनेकियासचिनकाअभिनंदनयूपीएससीकीपरीक्षापहलेहीप्रयासमेंउत्तीर्णकरनेवालेसचिनकुमारकाशनिवारकोउनकेस्कूलप्रबंधननेअभिनंदनकिया।बल्लभगढ़कीसुभाषकॉलोनीमेंरहनेवालेसचिनने400वींरैंककेसाथपरीक्षापासकीहैऔरउसने12वींतककीपढ़ाईरावलकान्वेंटस्कूलमेंहीकीहै।बेहदगरीबघरसेपरहोनहारसचिनकोउसकीपढ़ाईसुचारूरूपसेजारीरखनेमेंरावलकान्वेंटस्कूलकेचेयरमैनसीबीरावलनेहमेशाखासध्यानरखा,यहीकारणहैकिजैसेहीसचिनशनिवारकोस्कूलपहुंचा,उन्होंनेसीबीरावलकेपैरछुए।

इसपरसीबीरावलनेइसप्रतिभाशालीकोगलेलगालियाऔरकहाकिउन्हेंशुरूसेहीभरोसाथाकियहछात्रएकनएकदिनस्कूलकावफरीदाबादजिलेकानामरोशनकरेगा।स्कूलनिदेशकअनिलकुमारनेसचिनकामुंहमीठाकरायाऔरचेयरमैननेमिठाईकेडिब्बेकेसाथ11हजाररुपयेकीसम्मानराशिभीसचिनकोभेंटकी।