Drug Supplier: एक्सपायर दवाओं के खरीददारों तक पहुंचने में नाकाम आगरा पुलिस

आगरा, जागरणसंवाददाता।आगरामेंएक्सपायरीदवाओंकेखरीददारोंतकपहुंचनेमेंपुलिसकरीबदोसप्ताहबादभीनाकामहै।करीबदोसप्ताहपहलेगिरफ्तारकिएगएराजौराबंधुसमेततीनआरोपितोंनेएक्सपायरीदवाओंकोशहरकेविभिन्नअस्पताल,मेडिकलस्टोरऔरझोलाछापोंकोआपूर्तिकरनेकीजानकारीदीथी।उनकीफर्मसेपुलिसने35लाखरुपयेकीदवाएंबरामदकीथीं।आरोपितोनेजिनलोगोंकाेयेदवाएंबेचीथीं।पुलिसनेउनकेबारेमेंजानकारीएकत्रितकरनेकेबादकार्रवाईकीकहाथा।

जगदीशपुराकीआवासविकासकालोनीकेसेक्टर12स्थितसत्यममार्केटमेंराजौराडिस्ट्रीब्यूटर्सफर्मपरछहजिलोंकेऔषधिनिरीक्षकोंऔरपुलिसनेछापामारा।इनमेंआगरा,बागपत,बुलंदशहर,हाथरस,फीरोजाबादऔरबिजनौरकेऔषधिनिरीक्षकोंकीटीमपुलिसकेसाथपहुंचीथी।मार्केटकेपिछलेहिस्सेमेंप्रथमतलपरराजौराडिस्ट्रीब्यूटर्सकेयहांछापामारा।फर्मनेएकदुकानमेंकार्यालयऔरदूसरेमेंगोदामबनारखाथा।फर्मकेमालिकप्रदीपऔरधीरजराजौरानिवासीसेक्टरआठथे।टीमनेबराबरवालीदुकानमेंबनेगोदामकोखुलवायातोउसमेंदवाइयोंकेकार्टनमिले।इनमेंदवाओंकेबिलऔरबैचनंबरनहींथे।पुलिसकोपूछताछकरनेपरपताचलाथाकिराजौराबंधुएक्सपायरीदवाओंकीरीपैकिंगकरतेथे।उसपरनईएक्सपायरीतारीखऔरबैचनंबरडालकरमार्केटमेंबेचतेथे।

फलविक्रेतासेदवाकारोबारीबनकमाएलाखोंरुपये

सिकंदरामंडीमेंपिताकेसाथकुछवर्षपहलेतकफलोंकाकामकरनेवालेप्रदीपऔरधीरजनेएक्सपायरीदवाओंकाकारोबारकरकेकरोड़पतिबनगए।डेढ़वर्षकेदौरानदोनोंभाइयोंकेरहन-सहनमेंआएअप्रत्याशितबदलावसेकालोनीकेलोगभीआश्चर्यचकितथे।आठफरवरीकोपुलिसआरोपितोंकेघरपहुुंचीतोकालोनीकेलोगोंकोउनकीआलीशानजिंदगीकीहकीकतपताचली।

आरोपितोकेपितासिकंदरामंडीमेंफलोंकाकामकरतेथे।प्रदीपबीबीएऔरधीरजनेबीएससीकियाहुआहै।उन्होंनेडेढ़वर्षपहलेआवासविकासकालोनीकेसेक्टर12मेंसत्यमप्लाजामार्केटमेंप्रथमतलकीदोदुकानोंकोकिराएपरलेकरएक्सपायरीदवाओंकीरीपैकिंगकरकेबाजारमेंबेचनेकाधंधाशुरूकियाथा।इससेकुछहीसमयमेंउन्होंनेजमकरकमाईकी।डेढवर्षकेअंदरहीतीनमंजिलामकानबनवानेकेसाथही20लाखरुपयेकीलग्जरीगाड़ीखरीदी।

मार्केटवालोंकोभीनहींथीएक्सपायरीदवाओंकेखेलकीजानकारी

पुलिसकेमुताबिकसत्यमप्लाजामें40सेज्यादादुकानेंहैं।दोनोंभाइयोंद्वारादवाओंकेनामपरकिएजारहेखेलकीमार्केटकेलोगोंकोभीभनकनहींथी।दुकानकेबराबरवालेगोदाममेंलोगाेंकेआने-जानेपररोकथी।वहांकर्मचारियोंकेअलावाबाहरीव्यक्तिनहींजासकताथा।