दक्षिण दिल्ली निगम ने न्यायालय से कहा:नियमित रूप से अवैघ निर्माण के खिलाफ कार्वाईकर रहे हैं

नयीदिल्ली,14दिसंबरभाषादक्षिणदिल्लीनगरनिगमनेआजउच्चतमन्यायालयसेकहाकिवहअपनेक्षेत्रमेंसमयसमयपरअवैधनिर्माणकेखिलाफकार्वाईकरतीरहीहै।न्यायमूर्तिमदनबीलोकूरऔरन्यायमूर्तिदीपकगुप्ताकीपीठनेनिगमसेअवैधनिर्माणकेखिलाफकीगयीकार्वाईकेबारेमेजाननाचाहाथा।इसपरनिगमनेपीठकोयहजानकारीदी।न्यायालयमेंमौजूददक्षिणदिल्लीनगरनिगमकेअतिरक्तआयुक्तनेपीठसेकहाकिइससालकरीब1800ऐसीसंपाियोंकोढहानेकेअलावाकरीबदोहजारकेखिलाफमामलेदर्जकियेगयेहैं।इसअधिकारीनेबतायाकिऐसी544संपाियोंकेखिलाफअभियोजनशुरूकियागयाहै।संक्षिप्तसुनवाईकेबादपीठनेकहाकिइसमामलेमेंकलआगेविचारकियाजायेगा।शीर्षअदालतनेइससेपहलेकहाथाकिभवननिर्माणकीमंजूरीदेनेसंबंधीकानूनकाशासनपूरीतरहचरमरागयाहै।न्यायालयनेराष्ट्रीयराजधानीमेंअंधाधुंधअवैधनिर्माणोंपरभीचिंताव्यक्तकीथी।पीठनेदक्षिणदिल्लीकेमहरौलीइलाकेमेंएकअनधिकृतकालोनीकेमामलेकोगंभीरतासेलेतेहुयेऐसीसंपाियोंकीपहचानकरउन्हेंसीलकरनेकेलिये2006कीनिगरानीसमितिकोबहालकरतेहुयेदक्षिणदिल्लीनगरनिगमकेआयुक्तकोपेशहोनेकानिर्देशदियाथा।पीठनेनिगरानीसमितिकेअधिकारबहालकरनेकाफैसलाकियाथाजिसेशहरमेंऐसेअनधिकृतपरिसरोंकीपहचानकरसीलकरनेकेअधिकारसे2012मेंमुक्तकरदियागयाथा।इसनिगरानीसमितिमेंनिर्वाचनआयोगकेपूर्वसलाहकारकेजेराव,पर्यावरणप्रदूषणनियंत्रणप्राधिकरणकेअध्यक्षभूरेलालऔरमेजरजनरलसेवानिवृसोमझािंगनशामिलथे।शीर्षअदालतने24मार्च,2006कोइससमितिकागठनकियाथा।भाषाअनूप