दिल्ली की 'खराब हवा' पर राष्ट्रपति भी हुए चिंतित, कहा- अस्तित्व को खतरा, भविष्य को लेकर डर

नईदिल्लीदिल्लीमेंपलूशनकोलेकरमंगलवारकोएकतरफसंसदमेंचर्चाहुईतोराष्ट्रपतिरामनाथकोविंदनेभीइसपरचिंताजतातेहुएकहाकिऐसेहालातमेंभविष्यकीचिंताहोतीहैऔरअस्तित्वखतरेमेंलगताहै।राष्ट्रपतिभावनमेंदेशकेआईआईटी,एनआईटीऔरइंडियनइंस्टिट्यूटऑफइंजिनियरिंगसाइंसऐंडटेक्नॉलजीकेनिदेशकोंसेबातचीतमेंयहबातकही।उन्होंनेकहाकिहमेंउम्मीदहैकिआपलोगअपनीविशेषज्ञतासेएयरपलूशनकीसमस्याकासमाधानढूंढलेंगेऔरसाथहीछात्रोंतथाशोधकर्ताओंमेंसंवेदनशीलताजगाएंगे।कोविंदनेराष्ट्रपतिभवनमेंसालाना‘विजिटर्सकॉन्फ्रेंस’मेंकहा,‘यहसालऐसावक्तहैजबदेशकीराजधानीऔरकईअन्यशहरोंकीवायुगुणवत्तामानकोंसेपरेकाफीखराबहोगईहै।कईवैज्ञानिकोंनेभविष्यकीदुखदतस्वीरपेशकीहै।शहरोंमेंधुंधऔरखराबदृश्यताकेदिनोंमेंहमेंडररहताहैकिक्याभविष्यऐसाहीहै।’बीजेपीकावार-तबCMखांसतेथे,अबदिल्लीउन्होंनेकहा,‘मुझेविश्वासहैकिआपकेसंस्थानइसकासमाधाननिकालेंगेऔरहमारेसाझेभविष्यकेलिएछात्रोंऔरशोधकर्ताओंकेबीचसंवेदनशीलताऔरजागरूकताकाप्रसारकरेंगे।’कोविंदनेकहा,‘हमऐसीचुनौतीकासामनाकररहेहैंजोपहलेकभीनहींआई।पिछलीकुछसदियोंमेंहाइड्रोकार्बनऊर्जानेदुनियाकाचेहराबदलदियाहैलेकिनअबइससेहमारेअस्तित्वपरहीखतरापैदाहोगयाहै।'पलूशनपरगंभीर,ऑड-ईवनसेनहींचलेगाकाम'ईजऑफडूइंगबिजनसकेबादईजऑफलिविंगसुधारनाहोगा'उन्होंनेकहाकियहचुनौतीउनदेशोंकेलिएऔरविकटहोगईहै,जोजनसंख्याकेएकबड़ेहिस्सेकोगरीबीसेबाहरलानेकेलिएसंघर्षरतहैं।फिरभीहमेंविकल्पतलाशनाहोगा।राष्ट्रपतिनेकहाकिसरकारद्वारा‘ईजऑफडूइंगबिजनस’सूचकांकमेंभारतकीरैंकिंगसुधारनेकाप्रयासकरनेकेबादअबउद्देश्यसभीनागरिकोंकेलिए‘ईजऑफलिविंग’मेंसुधारलानाहै।दिल्लीकाCMखुदप्रदूषणहै:लोकसभामेंबीजेपीसांसदप्रवेशवर्मामंगलवारकोफिरखराबहोगईदिल्लीकीहवाइसबीचकईदिनोंकीराहतकेबाददिल्लीमेंमंगलवारकोएकबारफिरसेहवाखराबहोगई।हवाठहरनेऔरखेतोंमेंफसलअवशेषोंकोजलाएजानेकेकारणएयरक्वॉलिटीइंडेक्समेंगिरावटआईहै।केंद्रीयप्रदूषणनियंत्रणबोर्डकेअनुसारराष्ट्रीयराजधानीदिल्लीकीवायुगणवत्तासूचकांकशाम4बजे242दर्जकीगई।एकदिनपहलेइसीसमयमेंयह214था।गाजियाबादमेंसबसेज्यादापलूशनदिल्लीकेआसपासकेक्षेत्रगाजियाबादकावायुगुणवत्तासूचकांक330दर्जकियागयाजो‘बहुतखराब’श्रेणीमेंआताहैऔरमंगलवारकोदेशमेंयहशहरसबसेअधिकप्रदूषितरहा।लोकसभामेंप्रदूषणपरचर्चा:तिवारीनेदीचीनसेसीखनेकीसलाह