दिल्ली के हिंसा प्रभावित क्षेत्रों में तैनात किए जा रहे एक हजार सशस्त्र पुलिसकर्मी

नयीदिल्ली,25फरवरी(भाषा)दिल्लीकेहिंसाप्रभावितइलाकोंमेंलगभगएकहजारपुलिसकर्मियोंकीसशस्त्रबटालियनतैनातकीजारहीहैऔरअंतरराज्यीयसीमाओंपरकरीबसेनजररखीजारहीहै।केंद्रीयगृहमंत्रीअमितशाहद्वारामंगलवारकोबुलाईगईबैठकमेंपुलिसकर्मियोंकीतैनातीकेबारेमेंयहजानकारीदीगई।बैठकमेंउपराज्यपालअनिलबैजल,मुख्यमंत्रीअरविंदकेजरीवाल,दिल्लीकेपुलिसआयुक्तअमूल्यपटनायक,कांग्रेसनेतासुभाषचोपड़ा,भाजपाकेनेतामनोजतिवारीऔररामवीरबिधूड़ीभीशामिलहुए।इससंबंधमेंएकअधिकारीनेबतायाकिउच्चस्तरीयबैठकमेंदिल्लीमेंपुलिस-विधायकसमन्वयमजबूतकरनेकेसाथहीधार्मिकऔरजाने-मानेस्थानीयनागरिकोंसहितसमाजकेसभीतबकोंकेप्रतिनिधियोंकेसाथशांतिसमितियोंकोपुन:सक्रियकरनेकाभीनिर्णयकियागया।दिल्लीकेहिंसाप्रभावितइलाकोंमेंअतिरिक्तबलोंकेसाथहीविशेषअधिकारियोंकीतैनातीकीजारहीहैजहांएकहेडकॉन्स्टेबलसहितसातलोगमारेगएहैं।अधिकारीनेबतायाकिप्रभावितक्षेत्रोंमेंशांतिसुनिश्चितकरनेकेलिएदिल्लीपुलिसकीएकसशस्त्रबटालियनतैनातकीजारहीहै।उत्तरप्रदेशऔरहरियाणासेलगतीदिल्लीकीसीमाओंपरपिछलेतीनदिनसेकरीबसेनजररखीजारहीहैऔरदिल्लीपुलिसखासतौरपरयहांशाहीनबागकोलेकरउच्चतमन्यायालयकेआनेवालेफैसलेकेमद्देनजरपर्याप्तएहतियातीकदमउठारहीहै।पेशेवरआकलनकेअनुसारराष्ट्रीयराजधानीमेंहिंसाअपनेआपभड़कीऔरबलोंनेअधिकतमसंयमबरताहैतथावेऐसाकरनाजारीरखेंगे।गृहमंत्रीनेउल्लेखकियाकिकईतरहकीअफवाहेंफैलरहीहैंजिससेपुलिसकासमयबर्बादहोताहै।उन्होंनेजनताऔरमीडियासेजिम्मेदारीसेकामकरनेतथाअफवाहोंकेप्रसारसेबचनेकीअपीलकी।उन्होंनेदिल्लीकेपुलिसआयुक्तसेपुलिसनियंत्रणकक्षोंमेंवरिष्ठअधिकारियोंकोतैनातकरनेकोकहाजिससेकिअफवाहोंकोजल्दसेजल्ददूरकियाजासके।शाहनेस्थानीयशांतिसमितियोंकोफिरसेसक्रियकरनेकीजरूरतबताईऔरकहाकिइनसमितियोंमेंधार्मिक,जाने-मानेस्थानीयलोगोंसहितसमाजकेसभीतबकोंकेप्रतिनिधिहोनेचाहिए।उन्होंनेराजनीतिकदलोंसेकहाकिवेअपनेस्थानीयप्रतिनिधियोंसेसंवेदनशीलक्षेत्रोंमेंबैठकेंकरनेकोकहें।शाहनेवरिष्ठअधिकारियोंकोसंवेदनशीलथानोंकाजल्दसेजल्ददौराकरनेकानिर्देशदिया।उन्होंनेराजनीतिकदलोंसेभड़काऊभाषणोंऔरबयानोंसेबचनेकाआग्रहकिया।शाहनेसभीदलोंकीभागीदारीकीप्रशंसाकीऔरउनसेसंयमबरतनेतथासमाधानखोजनेकेलिएपार्टीलाइनसेऊपरउठकरकामकरनेतथाराजनीतिकदलोंकेकैडरोंकोस्थितिनियंत्रणमेंहोनेकाआश्वासनदेनेकोकहा।उन्होंनेकहाकिमाहौलबिगाड़नेवालेघृणाभाषणोंकेजवाबमेंपुलिसचेतावनीजारीकरतीरहीहै।इससंबंधमेंएकअन्यअधिकारीनेकहाकिस्थानीयप्रतिनिधियोंसेफीडबैकलियागयाहैऔरइसेउपराजयपालतथादिल्लीकेपुलिसआयुक्तसेचर्चाकेबादभविष्यकीकार्रवाईकोलेकरध्यानमेंरखागयाहै।शाहनेजोरदेकरकहाकिदिल्लीपुलिसकीआलोचनासेबचनेकीआवश्यकताहै।उन्होंनेकहाकिअनावश्यकऔरअवांछितआलोचनाकापुलिसकेमनोबलपरनकारात्मकप्रभावपड़सकताहै।उन्होंनेकहाकिदिल्लीपुलिसएकपेशेवरबलहैऔरतनावकीस्थितिमेंआवश्यकबलप्रयोगकानिर्णयकरनेकाउसेपर्याप्तअधिकारहै।केंद्रीयगृहसचिवअजयभल्लाऔरगुप्तचरब्यूरोकेनिदेशकअरविन्दकुमारभीबैठकमेंशामिलहुए।संशोधितनागरिकताकानून(सीएए)कोलेकरसोमवारकोउत्तरपूर्वीदिल्लीमेंअलग-अलगस्थानोंपरहुईहिंसामेंएकहेडकॉन्स्टेबलसहितसातलोगमारेगएऔरकमसेकम50लोगघायलहोगए।घायलोंमेंअर्धसैनिकबलऔरदिल्लीपुलिसकेकईकर्मीभीशामिलहैं।उग्रप्रदर्शनकारियोंनेभारीपथरावकेसाथहीघरों,दुकानों,वाहनोंऔरएकपेट्रोलपंपकोआगलगादीथी।