दिल्ली हिंसा: कोर्ट में बोला दीप सिद्धू-झंडा फहराना जुर्म नहीं, फेसबुक लाइव करना थी गलती

नईदिल्लीगणतंत्रदिवसपरकृषिकाननूोंकेविरोधमेंट्रैक्टरपरेडकेदौरानहुईहिंसामामलेमेंगिरफ्तारहुएपंजाबीअभिनेताऔरएक्टिविस्टदीपसिद्धूकीजमानतयाचिकापरआजदिल्लीकोर्टमेंसुनवाईहुई।इसदौरानदीपसिद्धूनेवकीलोंकेजरिएकोर्टसेकहाकिझंडाफहरानाकोईजुर्मनहींहै,उसनेफेसबुकलाइवहोस्टकरगलतीकरदीथी।दरअसलकिसानोंनेतीननएकृषिकानूनोंकेविरोधमेंदिल्लीमेंट्रैक्टररैलीकाआयोजनकियाथा,जिसकेबादहिंसाभड़कगईथी।विशेषन्यायाधीशनीलोफरआबिदापरवीननेसुनवाईको12अप्रैलतककेलिएस्थगितकरदियाहै।सिद्धूकेवकीलअभिषेकगुप्तानेअदालतसेकहा,'मैंनेझंडानहींफहरायाऔरनाहीकिसीसेझंडाफहरानेकीअपीलकी,झंडाफहरानाजुर्मनहींहैऔरयहएकबहसकामुद्दाहै,जिसमेंमैंनहींपड़नाचाहता।मैंनेगलतीकीहै,लेकिनहरगलतीजुर्मनहींहोती।मैंनेफेसबुकलाइवकरगलतीकीहै।जानेंक्याहैपूरामामलाकेंद्रकेतीननएकृषिकानूनों(FarmLaws)कोनिरस्तकरनेकीअपनीमांगकोलेकर26जनवरीकोकिसानसंघोंकेआह्वानपरदेशकीराजधानीदिल्लीमेंनिकालीगई‘ट्रैक्टररेड’केदौरानहजारोंकिसानोंकीपुलिसकर्मियोंकेसाथहिंसकझड़पहुईथी।इसीबीचकईप्रदर्शनकारीट्रैक्टरकेसाथलालकिलेपहुंचगएऔरस्मारकमेंघुसगए।कुछलोगोंनेलालकिलेपरचढ़करध्वजस्तंभपरधार्मिकझंडालगादिया।ट्रैक्टरपरेडकेदौरानहुईहिंसामें500सेज्यादापुलिसकर्मीघायलहुएथे,जबकिएकप्रदर्शनकारीकीमौतभीइसहिंसामेंहोगईथी।