Dhanbad Girl Kidnapping Story: 18 साल बाद अवतरित हुई युवती, सुनाई ऐसी कहानी जिसमें ट्विस्ट ही ट्विस्ट; आप भी पढ़ें

जागरणसंवाददाता,धनबाद/लोदना।आमताैरपरहिंदीफिल्मोंकीऐसीकहानीहोतीहैं-बचपनमेंकिसीमेलेमेंबिछड़जानाऔरबड़ेहोनेपरफिरसेनाटकीयढंगसेमुलाकातमिलनहोना।इसकहानीसेमिलती-जुलतीएकसच्चीघटनाधनबादकेलोदनाक्षेत्रमेंसामनेआईहै।18सालपहले19वर्षकीएकयुवतीमेलेसेगायबहोगईथी।अबलाैटआईहै। युवतीनेजोकहानीबताईहैवहउसकेलापताहोनेकेबाददर्जकराईगईअपहरणकीप्राथमिकीझूठीसाबितहोतीहै। उसकेअपहरणकीझूठीप्राथमिकीकेकारण18सालोंकेदरम्यानदोपरिवारतबाहहोगए।सरकारीनाैकरीगई। एकआरोपितकीमाैतभीगईहै।अबबड़ासवालयहहैकिआरोपितोंकोकैसेमिलेगाइंसाफ?

साल2003मेंरक्षाकालीमेलासेगायबहुईथीयुवती

लोदनाओपीक्षेत्रमेंरहनेवालीआरतीकुमारीवर्ष2003मेंमांरक्षाकालीपूजामेलाकेदौरानअचानकलापताहोगईथी।उससमयउसकीउम्रलगभग19वर्षथी।शनिवार,4दिसंबरको37वर्षकीउम्रमेंवहअचानकघरलौटआई।क्षेत्रकेलोगइसकीजानकारीलेनेकेलिएउसकेआवासपहुंचे।हालांकिलड़कीनेमिलनेसेइन्कारकरदिया।लड़कीकेगायबहोनेकेमामलेमेंउसकेपिताबंगालीरविदासनेउससमयलोदनाओपीमेंअपहरणकिएजानेकीशिकायतकीथी।पुलिसनेमामलादर्जकरकार्रवाईकरतेहुएकईआरोपितोंकोजेलभेजाथा।युवतीकेघरवापसलौटनेपरआरोपितोंकेस्वजनकाफीआक्रोशितहैं।उन्होंनेकहाकिलड़कीकेअपहरणकेझूठेआरोपमेंहमारेपिताकोजेलजानापड़ा।इसकारणहमकाफीप्रताडि़तहुए।पुलिससेमामलेमेंउचितकार्रवाईकीमांगकी।

पुलिसपदाधिकरियोंनेयुवतीसेमिलप्राप्तकीजानकारी

जानकारीपाकरलोदनाओपीकेअधिकारीदयाशंकरपाठकवचंद्रभूषणप्रसादमौकेपरपहुंचकरलड़कीसेजानकारीली।लड़कीनेपुलिसकोबतायाकिहमपूजामेलाकेदौरानअपनेपरिवारसेबिछड़गएथे।अंधेरामेंहमकोकुछसमझमेंनहींआया।हमचलते-चलतेखडग़पुरपहुंचगए।वहींएकमंदिरमेंइतनेसालरहे।लड़कीकीइसबातसेलोगहैरतमेंपड़गए।लोगोंकाकहनाहैकिलड़कीस्नातकमेंउससमयपढ़रहीथी।एकनिजीस्कूलमेंपढ़ानेकाकामभीकरतीथी।ऐसेमेंउसकाकहींचलेजानाऔरफिरअपनेघरवापसनहींलौटना,भरोसालायकनहींहै।वहींयुवतीकीमांनेकहाकिअभीघरमेंकोईपुरूषसदस्यनहींहै।दोनोंपुत्रबाहरमेंनौकरीकररहेहैं।उनकेआनेकेबादहीकुछकहाजाएगा।

वर्ष2003मेंलोदनाकेमंदिरमेंरक्षाकालीपूजाकेदौरानरातमेंलड़कीअपनेपरिवारकेसाथपूजाकरनेपहुंचीथी।इसीबीचमंदिरकेमुख्यगेटकेपाससेलड़कीअचानकगायबहोगई।स्वजनोंनेकाफीखोजबीनकी।उसकापतानहींचला।लड़कीकेपितानेलोदनाओपीमेंपुत्रीकेअपहरणकीशिकायतकी।क्षेत्रकेरामेश्वरमल्लाहउर्फबासकीत,उनकेपुत्रमनोजनिषाद,राजूनिषादऔरदीपकचौहानपरगलतनीयतसेअपहरणकरनेकाआरोपलगायाथा।पुलिसनेरामेश्वर,मनोज,राजूकोगिरफ्तारकरजेलभेजाथा।

आरोपितकेस्वजनपुलिससेलगाईन्यायकीगुहार

रामेश्वरकीपत्नीभानुदेवीनेकहाकिअपहरणकेझूठेआरोपमेंपतिसातमाहवपुत्रमनोजचारमाहजेलमेंरहा।मुझेकाफीपरेशानियोंकासामनाकरनापड़ा।जेलसेआनेकेबादपतिकीबीसीसीएलकीनौकरीचलीगई।बादमेंसदमासेउनकानिधनहोगया।राजूनेकहाकितीनमाहजेलमेंगुजारा।अबजबलड़कीवापसलौटीहैतोहमलोगकोपुलिसवन्यायालयसेइंसाफमिलनाचाहिए।मृतकरामेश्वरकेपुत्रसनोजनेइससंबंधमेंवरीयपुलिसअधिकारीसेशिकायतकरनेकीबातकही।