देवता की आज्ञा से ही नामांकन और प्रचार

फरेंद्रठाकुर,मंडी

मंडीजिलेमेंनगरनिकायवपंचायतीराजचुनावमेंकिस्मतआजमानेसेपहलेलोगदेवी-देवताओंसेआज्ञा(पूछ)लेरहेहैं।यहआज्ञादेवताओंकेगूरऔरपुजारीकेमाध्यमसेलीजारहीहै।यहांसेअनुमतिमिलनेकेबादहीनामांकनकररहेहैंयाचुनावीमैदानमेंउतररहेहैं।

अगरदेवताकिसीकोचुनावलड़नेकीआज्ञानहींदेरहाहैतोवहइससेपीछेभीहटरहेहैं।वहींजिनप्रत्याशियोंकोदेवताओंसेचुनावलड़नेकेलिएआज्ञामिलगईहैवेलोगोंसेवोटमांगतेसमयदेवताकीकसमदिलारहेहैं।प्रत्याशीऐसाइसलिएकरहैंक्योंकिदेवभूमिहिमाचलमेंआजभीलोगोंकीदेवी-देवताओंकेप्रतिगहरीआस्थाहै।लोगअपनेसभीकार्यदेवताओंकोपूछकरहीकरतेहैं।

गौरतलबहैकिचुनावमेंदेवी-देवताओंकीअहमभूमिकारहतीहै।प्रत्याशीचुनावसेपहलेदेवताओंकोअपनेघरबुलानेकावादाकरतेहैं।उनकेआशीर्वादसेहीवहमैदानमेंउतरतेहैं।चुनावमेंजीतकेबाददेवताकोघरकानिमंत्रणदेतेहैं।उनकेलिएधामकाआयोजनभीकियाजाताहै।

20प्रत्याशियोंकोनहींमिलीअनुमति

जिलेमेंअबतक20प्रत्याशियोंकोदेवी-देवताओंसेचुनावमेंखड़ाहोनेकीआज्ञानहींमिलीहै।इसकेलिएदेवतानेसाफइनकारकियाहै।इसपरकोईप्रत्याशीनाराजगीभीजाहिरनहींकरताहै।सराजघाटीकेगगनसिंह,शमशेरसिंह,सोहनलाल,रघुवीर,आकाशवसुनीलसैननेबतायाकिवेप्रधान,उपप्रधान,बीडीसीवजिलापरिषदसदस्यकेपदपरचुनावीमैदानमेंउतररहेथे।इसकेलिएउन्होंनेअपनेकुलदेवताओंसेआज्ञाली,लेकिनदेवतानेसाफमनाकरदिया।इसलिएवेचुनावमेंहिस्सानहींलेरहेहैं।वहींघाटीकेदीपकशर्मा,हेमादेवी,बबलूकोहरीझंडीमिलगईहै।-------------

मैंअपनीपत्नीहेमादेवीकोथाचीवार्डसेजिलापरिषदसदस्यकेलिएखड़ाकररहाहूं।इसकेलिएअपनेकुलदेवतासेआज्ञालीथी।इसकेलिएदेवताकाआशीर्वादमिलाहै।मैंतीनबारस्वयंजिलापरिषदसदस्यरहचूकाहूं।

संतराम,निवर्तमानजिलापरिषदसदस्यखलवाहन

चुनावीमैदानमेंउतरनेकेलिएप्रत्याशीदेवी-देवताओंकीशरणमेंपहुंचरहेहैं।लोगोंकीदेवताओंमेंगहरीआस्थाहोतीहै।कोईभीशुभकार्यकरनेसेपहलेदेवताओंसेआज्ञालीजातीहै।चुनावलड़ेकेइच्छुक25से20लोगअबतकदेवताकीशरणमेंपहुंचचुकेहैं।

टिकेराम,पुजारीबड़ादेवमतलोड़ासराज।