Delhi News: जानिए वन क्षेत्र के मामले में किस नंबर पर है राजधानी दिल्ली?

नईदिल्ली[संजीवगुप्ता]।वर्ष1997केबादराजधानीकेवनऔरवृक्षकवरक्षेत्रमेंनिरंतरवृद्धिहोरहीहै।2021मेंवनऔरवृक्षोंसेघिरेक्षेत्रकादायराबढ़कर342वर्गकिलोमीटरहोगयाहै।इससेकुलभौगोलिकक्षेत्रमेंवनोंकाहिस्साबढ़कर23.06प्रतिशतहोगयाहै।आर्थिकसर्वेक्षणरिपोर्ट2021-22केअनुसारसातप्रमुखबड़ेशहरोंमेंदिल्लीकावनक्षेत्रसबसेअधिक194.24वर्गकिलोमीटरहै।इसकेबादमुंबई110.77वर्गकिलोमीटरऔरबंगलुरुका89.02वर्गकिलोमीटरहै।इसीतरहराज्यऔरकेंद्रशासितप्रदेशोंकेकुलभौगोलिकक्षेत्रकेप्रतिशतकेरूपमेंदिल्लीकावृक्षक्षेत्रचंडीगढ़(13.16प्रतिशत)केबाद9.91प्रतिशतकेसाथदूसरेस्थानपरहै।

दिल्लीकाफसलीक्षेत्रबढ़कर47,850हेक्टेयरहुआ

आर्थिकसर्वेक्षणकेअनुसारदिल्लीमेंसकलफसलक्षेत्र2021-22मेंबढ़कर47,850हेक्टेयरहोगया,जो2020-21में43,569हेक्टेयरथा।2012-13मेंयह35,178हेक्टेयरथा।रिपोर्टमेंकहागयाहैकिदिल्लीकेशेषक्षेत्रोंकाउपयोगगैर-कृषिउद्देश्योंकेलिएकियाजारहाहैयावन,परतीऔरगैर-कृषियोग्यभूमिहैं।हालांकिरिपोर्टमेंयहभीकहागयाहैकिदिल्लीकेसकलराज्यमूल्यवर्धित(जीएसवीए)मेंकृषिकाहिस्सा2011-12कीतुलनामें2021-22मेंकमहोगयाहै।

एसटीपीसे48प्रतिशतनमूनेअपशिष्टजलमानकोंपरखरेनहींउतरे

वित्तवर्ष2021-22(दिसंबरतक)मेंसीवेजशोधनसंयंत्रोंसेएकत्रितकिएगएकरीबआधेनमूनेअपशिष्टजलकेलिएनिर्धारितमानकोंपरखरेनहींउतरे।आर्थिकसर्वेक्षणरिपोर्टमेंकहागयाहैकिदिसंबरतकएसटीपीकीनिगरानीकेलिएएकत्रकिएगए438नमूनोंमेंसे52प्रतिशतनिर्धारितमानकोंपरखरेउतरे।इसअवधिमेंकामनएफ्लुएंटट्रीटमेंटप्लांट्स(सीईटीपी)सेपरीक्षणकिएगए206नमूनोंमेंसे156केवार्षिकलक्ष्यकेमुकाबले,लगभग63प्रतिशतमानदंडोंकोपूरानहींकरतेथे।

आंकड़ोंसेपताचलताहैकिप्रदूषणनियंत्रणकानूनोंकेउल्लंघनकेलिएअधिकारियोंनेदिसंबर,2021तक6,460उद्योगोंकानिरीक्षणकिया।दिसंबर2021तकडिफाल्टर1,778इकाइयोंमेंसे75प्रतिशतकोबंदकरदियागयाथा।प्रदूषणरोधीमानदंडोंकेउल्लंघनकेलिएग्रीनदिल्लीएपपरदर्जहुईं14,980शिकायतोंमेंसे93प्रतिशतकोदिसंबरकेअंततकहलकरदियागयाथा।