Delhi Crime News: राजधानी में महिलाओं की सुरक्षा पर उठे सवाल, चार दिनों में छह महिलाओं की अलग-अलग घटनाओं में मौत

RecordsofWomenCrimesinDelhi:देशकीराष्ट्रीयराजधानीमेंमहिलाओंकीसुरक्षाकीस्थितिक्याहै,इसकाअंदाजाइसीबातसेलगायाजासकताहैकि,दिल्ली(Delhi)मेंपिछलेचारदिनोंमेंसोमवारतककमसेकमछहमहिलाओंकीयातोहत्याकरदीगईयावहमृतअवस्थामेंपाईगई.सोमवारतकदिल्लीमेंदर्जहुएछःमामलोंमेंसे2महिलाओंकेसाथबलात्कारकियागया,उनमेंसेएकपीड़ितानाबालिगथीऔरमानसिकरूपसेविकलांगभीथी.

पिछलेचारदिनोंमेंघटीछहघटनाओंमेंसेचारमहिलाएंउनलोगोंकाशिकारहुयींजोउन्हेंजानतेथेयारोजउनकापीछाकियाकरतेथे.नेशनलक्राइमरिकॉर्डब्यूरोकेमुताबिक,राष्ट्रीयराजधानीमेंसाल2020मेंमहिलाओंकेखिलाफअपराधोंके10हजार93सेअधिकमामलेदर्जकिएगए,यहमामलेमुंबई,पुणे,गाजियाबादऔरबेंगलुरुमेंदर्जमामलोंकेमुकाबलेदोगुनेसेभीअधिकहैं.

एनसीआरबी(NCRB)कीरिपोर्टकेमुताबिक,दिल्लीमेंदर्जकुलमामलोंमेंसे997बलात्कार,110दहेजहत्याकेमामले,महिलाओंकीमर्यादाऔरशीलभंगकरनेके1840मामले,जबकि326महिलाउत्पीड़नकेमामलेदर्जकियेगये.इनसभीमामलोंमेंअपराधीअक्सरपीड़िताकेजाननेवालेथे.दिल्लीमेंहरसालकमसेकम1,500बलात्कारकेमामलेदर्जहोतेहैं.जिनमेंसे2फीसदसेभीकममामलेऐसेहोतेहैं,जहांअपराधीपीड़ितकेलिएअजनबीहोतेहैं.वहीं98फीसदीमामलोंमेंकथितबलात्कारीआमतौरपरदोस्त,पड़ोसी,परिवारकेसदस्य,साथीयापीड़िताकाकोईपरिचितहोताहै.

दिल्लीमेंहरदिनहोतेहैं21लोगस्नैचरोंकाशिकार

राष्ट्रीयराजधानीमेंस्नैचिंगहोनेवालेअपराधोंमेंसबसेआमहै.दिल्लीपुलिसकेजरियेजारीआपराधिकआंकड़ोंकेमुताबिक,दिल्लीमेंहरदिन21लोगस्नैचरोंकाशिकारहोतेहैं.शहरमेंस्नैचिंगकीसंख्या2020मेंभीलगभगसामानथी.दिल्लीमेंहोनेवालेकईस्नैचिंगमामलोंमेंशामिलरहनेवाले41वर्षीयमनीषसिंहजमानतपरबाहरहै.पुलिसनेमनीषसिंहकेबारेमेंबतायाकि,वह14सालकेआपराधिककरियरमेंइसतरहकेलगभग106ऐसेमामलोंमेंशामिलथा.

DelhiNews:उत्तरीदिल्लीनगरनिगमनेप्रॉपर्टीटैक्सपेयर्सकोदीबड़ीराहत,आममाफीयोजनाकीतारीख28फरवरीतकबढ़ाई

दिल्लीपुलिसमेंडीसीपीकेपदसेरिटायर्डएलएनरावनेकहा,स्नैचिंगकेलिएमहिलाएंहोतीहैंसॉफ्टटारगेट

पुलिसविशेषज्ञएलएनराव,जिन्होंनेतीनदशकोंसेअधिकसमयतकदिल्लीपुलिसकेसाथकामकियाऔरवहडीसीपीकेपदपररिटायरहुए.उन्होंनेस्नैचिंगकोलेकरकहाकि,"स्नैचिंगअपराधकोरोकनेकेलिये,पुलिसकीपहलीप्राथमिकतामेंशामिलहोनीचाहिए."एलएनरावनेकहाकि,"स्नैचर्सकेलिएमहिलाएंसॉफ्टटारगेटहोतीहैं.पुलिसकोयहसुनिश्चितकरनाचाहिएकि,इनस्नैचरोंकेकारणकोईभीनागरिकअपनेघरोंसेबाहरनिकलनेसेनडरे."

उन्होंनेकहाकि,"शहरमेंबाइकचोरोंकीपहचानकरनीचाहिए.स्नैचिंगकीघटनाओंमेंआमतौरपर,स्नैचरोंकेजरियेयहीचोरीकीबाइकइस्तेमालकीजातीहै."एलएनरावनेकहाकि,"इसमेंशामिलअपराधियोंकोगिरफ्तारकर,चोरीकियेगएसामानकोबरामदकरनेऔरइसपरलगामलगानेकेलिए,नईरणनीतियोंपरकामकरनाचाहिए."

Delhiके'तीनमूर्तिहाइफाचौक'काक्याहैइजराइलसेकनेक्शन,जानिएइसकेनामकेपीछेकाकिस्सा