डीएम के सामने खुली शिक्षा विभाग की पोल- पांचवीं के छात्र नहीं बता पाये जिले का नाम

जागरणसंवाददाता,शेखपुरा:

दोमहीनेहीनीतिआयोगनेशिक्षाकेक्षेत्रमेंबेहतरप्रगतिकेलिएजिलेकोपारितोषिकदियाहै।इसकेलिएस्वयंपीएमनेडीएमसेबातकीथीतथाजिलाकोआकांक्षीयोजनामेंबेहतरप्रदर्शनकेलिएतीनकरोड़रुपएकापुरस्कारमिलाहै।मगरशनिवारकोइसकथितप्रगतिकापोलनएडीएमसावनकुमारकेसमक्षखुलगया।जिलामुख्यालयमेंसंचालितगिरिहिड़ामध्यविद्यालयकेपांचवीकाछात्रजिलाकानामनहींबतापायाऔरगणितकासाधारणगुनाभीनहींहलकरसका।पानीनहींहोनेकीवजहसेएमडीएमयोजनाभीस्कूलमेंबंदमिला।

स्कूलमेंपढ़ाईकेइसस्तरपरडीएमनेअसंतोषजतायाऔरप्रधानाध्यापकसहितशिक्षकोंकोअपनीड्यूटीकेप्रतिजवाबदेहबननेकीसलाहदी।असलमेंशनिवारकोनएडीएमप्रमंडलीयआयुक्तकेसाथबैठकमेंभागलेनेमुंगेरजारहेथे।तभीरास्तेमेंगिरिहिड़ामध्यविद्यालयनिरीक्षणकरलिया।चारदिनोंमेंडीएमकायहतीसरास्कूलनिरीक्षणहै।स्कूलमेंबच्चोंकीकमउपस्थितिपरभीडीएमनाखुशदिखे।स्कूलकेबच्चोंनेस्कूलमेंशुक्रवारकीदोपहरकाभोजननहींमिलनेकीशिकायतडीएमसेकी।इसपरप्रधानाध्यापकनेडीएमकोबतायापानीकीसमस्याकीवजहसेएमडीएमनहींबना।डीएमनेमौकेसेहीपीएचईडीकोस्कूलमेंनयाबोरिगगाड़नेऔरतबतकनगरपरिषदकोटैंकरसेपानीकीआपूर्तिकरनेकानिर्देशदिया।डीएमनेप्रधानाध्यापकऔरबाकीशिक्षकोंकोभीसमयसेस्कूलआनेऔरमनलगाकरबच्चोंकोपढ़ानेकोकहा।