Captain Manoj Pandey UP Sainik School: देश के पहले सैनिक स्कूल में एडमिशन के लिए बढ़ा बेटियों का क्रेज

लखनऊ,जेएनएन। सशस्त्रसेनाओंमेंअफसरबननेकासपनादेखनेवालीकिसानसहितगरीबपरिवारकीबेटियोंकेलिएइसबारकैप्टनमनोजपांडेययूपीसैनिकस्कूलमेंएडमिशनलेनासबसेबड़ासपनाबनगयाहै।देशकेपहलेइसस्कूलमेंकक्षानौमेंप्रवेशलेनेकेलिए1120बेटियोंनेआवेदनकियाहै।हालांकिकठिनलिखितपरीक्षा,मनोवैज्ञानिकटेस्टऔरमेडिकलकीप्रक्रियामेंसफलहोनेकेबादमेरिटकेआधारपर15बेटियोंकाचयनहोसकेगा।

इससालकोविड-19केबावजूदकैप्टनमनोजपांडेययूपीसैनिकस्कूलमेंबालकोंऔरबालिकाओंकेएडमिशनकेलिएरिकॉर्ड6643आवेदनआएहैं।अबतकयहांपांचहजारसे5500आवेदनहोतेथे।यूपीसैनिकस्कूलसन1960मेंस्थापितकियागयाथा।यहउससमयदेशकापहलासैनिकस्कूलथा।जिसकीस्थापनातत्कालीनमुख्यमंत्रीडॉ.संपूर्णानंदनेकिसानोंऔरगरीबोंकेबच्चोंकोसेनामेंअफसरबनानेकाअवसरदेनेकेलिएकीथी।इसकेबादहीदेशकेअन्यसैनिकस्कूलोंकीस्थापनारक्षामंत्रालयनेकीथी।इतनाहीनहींदेशमेंपहलीबारबेटियोंकेकक्षानौमेंप्रवेशकेलिएएडमिशनकैप्टनमनोजपांडेययूपीसैनिकस्कूलनेहीशुरूकियाथा।इससालसुप्रीमकोर्टनेमहिलासैन्यअफसरोंकोस्थायीकमीशंडप्रदानकरनेकाआदेशदियाथा।जिसकाअसरइसबारयूपीसैनिकस्कूलमेंएडमिशनपरभीदिखरहाहै।एकतरफ15सीटोंकेलिएकक्षानौमें1119बेटियोंनेफार्मभराहै।वहींकक्षासातकी60सीटोंकेलिए3488बालकोंनेआवेदनकियाहै।बालकोंकीएकसीटपर58दावेदारहैं।

10जनवरीकोपरीक्षा

कैप्टनमनोजपांडेययूपीसैनिकस्कूलमेंप्रवेशकेलिएलिखितपरीक्षा10जनवरीकोसुबह10सेदोपहर12:30बजेतकप्रदेशकेकईकेंद्रोंपरहोगी।स्कूलप्रशासननेप्रवेशपत्रजारीकरदियाहै।अभ्यर्थीस्कूलकीवेबसाइटWWW.upsainikschool.orgपरप्रवेशपत्रडाउनलोडकरसकतेहैं।

'इसबारपिछलेसालकीअपेक्षाकुलअभ्यर्थियोंकेआवेदनमेंवृद्धिहुईहै।एडमिशनकेलिएलिखितपरीक्षाअगलेमाहहोगी।बालिकाओंनेभीएडमिशनकेलिएअधिकरूचिदिखायीहै।उनकेलिएनएहॉस्टलकानिर्माणभीकियाजारहाहै।' -ले.कर्नलउदयप्रतापसिंह, प्रधानाचार्य, कैप्टनमनोजपांडेययूपीसैनिकस्कूल