चाइनीज नहीं इस बार लुभा रहीं देशी रंग बिरंगी झालरें

-दीपावलीपरघरोंकोरोशनकरनेकेलिएबाजारमेंबढ़रहीभीड़

-बल्बसहितअन्यउपकरणकीअपेक्षाझालरकीओरअधिकरुझान

संवादसूत्र,सौरिख:दीपावलीकोलेकरबाजारसजेहुएहैं।इसबारड्रैगनकीचमकफीकीहै।लोगोंकोअबचाइनीजझालरकीजगहदेशीरंग-बिरंगीझालरेंपसंदआरहींहैं।वहींगतवर्षकीअपेक्षाकीमतोंमेंबढ़ोतरीभीहुईहै।

ग्रामीणक्षेत्रोंमेंमिट्टीकेदीपोंकेसाथहीरंग-बिरंगीझालरोंकोखरीदनेकेलिएलोगदिलचस्पीदिखारहेहैं।चाइनीजझालरबाजारमेंसस्तीहै।यह35-40रुपयेसेलेकर100से150रुपयेतकमेंमिलरहीहै।देशीझालर70रुपयेसेलेकर200रुपयेतकमेंबिकरहीहै।इसकेअलावाविभिन्नप्रकारकेरंगबिरंगेबल्बवलाइटभीदुकानोंपरसजीहुईहैं।लोगखरीदारीकेलिएआरहेहैं।गतवर्षकीअपेक्षाउन्हें10से20फीसदतककीमतभीबढ़ीहुईमिलरहीहै।कोरोनासंक्रमणकीवजहसेदोवर्षसेदीपावलीकाबाजारफीकारहताथा।इसबारलोगखरीदारीकेलिएघरोंसेनिकलरहेहैं।

--------------दीपावलीपरइलेक्ट्रानिकउपकरणकीमांगबढ़जातीहै।झालरपरमामूलीकीमतेंबढ़ीहैं।सबसेअधिकप्रभावकापरकेतारपरपड़ाहै।एकबंडलपर350से400रुपयेतककीबढ़ोतरीहुईहै।

-प्रिसगुप्ता,दुकानदारदीपावलीपरझालरखरीदनेकाविशेषमहत्वहै।एक-एकव्यक्तिदोसेतीनझालरतकलेजाताहै।इसबारप्रत्येकझालरपर10से20रुपयेतककीबढ़ोतरीहुईहै।

-बासुदुबे,दुकानदार

दीपावलीकेत्योहारपरसभीइलेक्ट्रानिक्ससामानकीकीमतोंमेंबढ़ोतरीहुईहै।चाइनीजझालरकीअपेक्षास्वदेशीझालरअच्छीहैं।इनकीकीमतेंभीनहींबढ़ीहैं।इससेखरीदारीमेंराहतहै।

-राहुलकुमार,ग्राहकपिछलेवर्षजोइलेक्ट्रानिकसामान1200से1500रुपयेमेंमिलरहाथा,वहइसबारदोसेढाईहजारमेंबिक्रीकियाजारहाहै।महंगाईकाअसरबाजारपरदिखाईदेरहाहै।दीपावलीएकबड़ात्योहारहै।इसलिएघरकीआवश्यकताकेअनुरूपखरीदारीकीजारहीहै।

-सरोजकुमार,ग्राहक