CAA के समर्थन में हिंदू शरणार्थियों का प्रदर्शन, समर्थन में आए कई यूनिवर्सिटी के छात्र

नईदिल्ली,जागरणसंवाददाता।राजधानीदिल्लीमेंनागरिकतासंशोधनकानून(सीएए)केसमर्थनमेंभीप्रदर्शनशुरूहोगएहैं।बृहस्पतिवारकोहिंदूशरणार्थियोंनेराजघाटपरप्रदर्शनकियाथातोवहींशुक्रवारकोकनॉटप्लेसपरसीएएकेसमर्थनमेंमार्चकिया।

सेंट्रलपार्कमेंबड़ीसंख्यामेंमहिलाओंवयुवाओंकेसाथजेएनयू,जामियाऔरएएमयूकेछात्रभीशामिलहुए।सभीनेएकसुरमेंइसकानूनकेलिएकेंद्रसरकारकोधन्यवाददिया।सभीनेहाथोंमेंप्लेकार्डऔरपोस्टरलेरखेथे।जिनमेंकानूनकेसमर्थनकेनारेलिखेहुएथे।लोगोंनेकनॉटप्लेसकेइनरसर्किलमेंमार्चकिया।इसदौरान200मीटरकातिरंगालेकरलोगोंनेमानवश्रृंखलाभीबनाई।कार्यक्रममेंमुस्लिमनेतामौलानाशोएबकासमीनेकहाकियहकानूनमुस्लिमोंकेखिलाफकतईनहींहैलेकिन,कुछलोगअपनीराजनीतिचमकानेकेलिएगलतफहमीफैलारहेहैं।कार्यक्रमकेआयोजकसोमवीरसिंहनेबतायाकिहमनेकुछहीदिनपहलेसोशलमीडियापरइसकार्यक्रममेंपहुंचनेकीअपीलकीथी।जिसमेंबड़ीसंख्यामेंलोगपहुंचे।

नागरिकताकानूनकोलेकरपार्टियोंपरभ्रमफैलानेकाआरोप

भारतरक्षामंचनेनागरिकसंशोधनकानून(सीएए)कासमर्थनकियाहै।मंचकेराष्ट्रीयसंगठनमंत्रीसूर्यकांतकेलकरनेप्रेसवार्तामेंकहाकिकांग्रेससहितअन्यपार्टियांइसकानूनकोलेकरभ्रमफैलारहीहैं।उन्होंनेदेशभरमेंराष्ट्रीयनागरिकरजिस्टरएनआरसी)लागूकरनेकीभीमांगकी।इसमौकेपरमंचकेदिल्लीप्रदेशअध्यक्षडॉ.पीकेसिंघल,राष्ट्रीयमंत्रीज्ञानप्रकाश,प्रदेशमहामंत्रीशंशाकचोपड़ाआदिमौजूदरहे।

कानूनकासचबतानेमैदानमेंभाजपाई

नागरिकतासंशोधनकानून(सीएए)कोलेकरफैलायेजारहेभ्रमकोदूरकरनेकेलिएभाजपानेतामैदानमेंउतरगएहैं।शुक्रवारकोकनॉटप्लेसमेंकार्यक्रमआयोजितकरदिल्लीप्रदेशभाजपाअध्यक्षमनोजतिवारीनेआमआदमीपार्टी(आप)वकांग्रेससहितअन्यविरोधीपार्टियोंपरसीएएकोलेकरलोगोंकोगुमराहकरनेकाआरोपलगाया।

उन्होंनेकहाकिदिल्लीऔरदेशकोअशांतकरनेकीसाजिशहोरहीहै,जिससेलोगोंकोसतर्करहनेकीजरूरतहै।इसकानूनपरबहसकरनेकेलिएदिल्लीकेमुख्यमंत्रीअरविंदकेजरीवालऔरकांग्रेसकेप्रदेशअध्यक्षसुभाषचोपड़ाकोआमंत्रितकियागयाथा,लेकिनदोनोंनहींआए।

उन्होंनेकहाकिसीएएकोलेकरअफवाहफैलाईजारहीहै।शांतिबनाएरखनेकीजिम्मेदारीजिननेताओंपरहै,वहीमाहौलबिगाड़रहेहैं।सेलेब्रेटीभीइसकानूनकोलेकरअसमंजसमेंहैं।संसदमेंभाजपाकेसाथअन्यदलोंनेभीइसकासमर्थनकियाहै।राज्यसभामेंभाजपाकाबहुमतनहींहै,लेकिनवहांभीसांसदोंनेइसेअपनासमर्थनदिया।इसकानूनसेमुस्लिमसमुदायकेकिसीभीशख्सपरकोईप्रभावनहींपड़ेगा।यहकानूनअफगानिस्तान,बांग्लादेशऔरपाकिस्तानमेंप्रताड़नासेभारतआनेवालेहिंदू,सिख,बौद्ध,जैन,ईसाई,पारसीसमुदायसेसंबंधितलोगोंकोनागरिकतादेनेकाहै।