बिना सुरक्षा इंतजामों के हुई विद्यार्थियों का स्वास्थ्य जांच

विद्यार्थियोंकोस्कूलप्रबंधननेजांचकेलिएभेजाअस्पताल

संवादसहयोगी,घरौंडा:शिक्षाविभागनेनएनियमोंकेसाथसरकारीवप्राइवेटस्कूलोंकोदसवींव12वींकक्षाकेविद्यार्थियोंकेलिएखोलदियाहै।लेकिनछात्रोंकोस्कूलमेंप्रवेशसेपहलेस्वास्थ्यप्रमाण-पत्रकेसाथअभिभावकोंकीअनुमति-पत्रजमाकरवानाहोगा।एजुकेशनडिपार्टमेंटकेनियमोंनेविद्यार्थियोंकोस्कूलसेअस्पतालमेंपहुंचादिया।सरकारीऔरप्राइवेटस्कूलकेबच्चेनागरिकअस्पतालमेंस्वास्थ्यजांचकरवानेकेलिएकतारोंमेंखड़ेदिखाईदिए।जहांशाीरीरिकदूरीनजरनहींआई।निजीस्कूलोंकेअध्यापकभीबच्चोंकेबीचहीखड़ेदिखाईदिए।

सुरक्षासंशाधनोंकीखामियोंकेबीचसरकारीवप्राइवेटस्कूलखोलेगए।घरौंडासरकारीस्कूलमेंमहज11बच्चेहीपहुंचे।इनकेअतिरिक्तस्कूलपहुंचेअधिकतरबच्चोंकेपासनतोस्वास्थ्यजांचप्रमाण-पत्रथाऔरनहीअभिभावकोंकीअनुमतिकापत्र।अध्यापकोंनेबच्चोंकोअस्पतालहेल्थसर्टिफिकेटबनवानेकेलिएभेजदिया।वहींप्राइवेटस्कूलप्रबंधनभीबसेंभरकरसरकारीअस्पतालमेंछात्रोंकीस्वास्थ्यजांचकेलिएपहुंचें।बच्चेबिनाशारीरिकदूरीकेलाइनोंमेंखड़ेरहे।बच्चोंकेसाथअध्यापकभीकोरोनागाइडलाइनकापालननहींकरसके।अधूरेसुरक्षाइंतजामोंकेबीचस्वास्थ्यजांचबच्चोंकेलिएभारीपड़सकतीहै।अस्पतालमेंसैकड़ोंबच्चोंकीस्वास्थ्यजांचकीगई,जबकि60बच्चोंकेकोविडटेस्टकिएगए।इसकीरिपोर्टमंगलवारकोआएगी।वहींसरकारीस्कूलकेप्रिसिपलइंद्रजीतकालियानेबतायाकि10वींव12वींकक्षाकेबच्चोंकोस्कूलमेंआनेकीअनुमतिमिलीहै।इसकेलिएउन्हेंपहलेअपनास्वास्थ्यसर्टिफिकेटवअभिभावककीअनुमतिजमाकरवानाहोगी।आज11बच्चेदोनोंसर्टिफिकेटोंकेसाथस्कूलमेंपहुंचेंथे।जिनकेपाससर्टिफिकेटनहींथे,उनकोवापिसभेजदियागया।उन्होंनेकहाकिसरकारकीगाइडलाइंसकापालनकियाजारहाहै।किसीतरहकीकोताहीनहींबरतीजाएगी।इसकेसाथहीकक्षाओंमेंबैठनेवालेप्रत्येकबच्चेकेपासमास्कअनिवार्यकियागयाहैऔरकक्षामेंप्रवेशसेपहलेहैंडसैनिटाइजरकरनेकीव्यवस्थाकीगईहै।वहींएसएमओडा.मुनेशगोयलनेबतायाकिअस्पतालवचारोंपीएचसीमें303लोगोंकेकोविडसैंपललिएगएहैं।इनमेंअधिकतरविद्यार्थीशामिलहै।कोविडसैंपलकीरिपोर्टमंगलवारकोआएगी।