बिजली बिलों की समस्या पर दिनेश कुमार बोले-शिकायत के लिए अलग सेल बनाएं, मीटर रीडिंग को सही तरीके से रिकॉर्ड करें

ऊर्जाविभागकेप्रिंसिपलसेकेट्रीवराजस्थानविधुतप्रसारणनिगमकेसीएमडीदिनेशकुमारदोदिवसीयदौरेपरकोटामेंरहे।उन्होंनेकोटाथर्मलपॉवरप्लांटकानिरीक्षणकिया,औरजेवीवीएनएलऑफिसमेंअधिकारियोंकीबैठकली।बादमेंउन्होंनेमीडियासेभीबातचीतकी।दिनेशकुमारनेबतायाकिबिजलीकेबिलोंकोलेकरउनकेपासभीशिकायतआईहै।

इसकोलेकरचीफइंजीनियरकोबोलाहैकिबिलोंकीशिकायतकेलिएअलगसेसेलबनाएऔरउपभोक्ताकीसमस्याकातुरंतसमाधानकरें।जोमीटरमेंरीडिंगहैउसकोसहीतरीकेसेरिकॉर्डकरें।

चारोंइकाइयांचलाईजाएगी

कोटाथर्मलपावरप्लांटकीचारोंइकाइयोंकीअवधिपूरीहोनेकेबादइसेचलानेकोलेकरउन्होंनेकहाकिअभीपर्यावरणस्वीकृतिवअन्यनियमोंकेतहतदिसम्बर2022तकचारोंइकाइयोंकोचलाईजारहीहै।उसकेबादप्लांटनहीचलेगातोइकाइयोंकोडिस्मेंटलकियाजाएगा।

प्रदेशकेथर्मलोंमेंकोयलेकीकमीकोलेकरउन्होंनेकहाकिवित्तदिक्कतोंकेकारणथर्मलोंमेंकोयलेकीकमीबनीहुईहै।चार-पांचसालोंसेउत्पादननिगमवडिस्कॉमनेकईलोनलेरखेहै।इसीकेचलतेखर्चेमेंकटौतीकेआदेशदिए।