बिहार: मोकामा के आश्रय गृह से फरार सात लड़कियों में से छह का पता चला

नईदिल्ली:बिहारकेमोकामामेंएकआश्रयगृहसेशनिवारकोसातनाबालिगलड़कियोंकेफरारहोनेकेकुछघंटोंबादइनमेंसेछहलड़कियांदरभंगाजिलेमेंमिलगईं.पुलिसनेयहजानकारीदी.दरभंगाकेवरिष्ठपुलिसअधीक्षक(एसएसपी)बाबूरामनेबताया,‘छहनाबालिगलड़कियांशनिवारशामकोगंगौलीगांवमेंमिलीं.यहगांवसकतपुरपुलिसथानाअंतर्गतआताहै.उन्होंनेकहाकिगुप्तसूचनाकेआधारपरपटनासेपुलिसकीटीमयहांलापतालड़कियोंकीतलाशमेंआयीथी.पूछताछकेदौरानपुलिसकोलड़कियोंकेयहांहोनेकापताचलाथा.इनमेंसेएकलड़कीगंगौलीगांवकीरहनेवालीहै.

पूछताछकेलिएहिरासतमेंलियागया

एसएसपीनेबतायाकियहलड़कीपांचअन्यकेसाथगांवमेंमिलीऔरयहांआयीपुलिसटीमनेउन्हेंपूछताछकेलियेहिरासतमेंलेलियाहै.विपक्षीदलोंनेबिहारमेंराजगसरकारकीआलोचनाकरतेहुएकहाआरोपलगायाकियेपांचोंलड़कियांउच्चतमन्यायालयकीनिगरानीमेंसीबीआईद्वारायौनउत्पीड़नकांडकीजांचमेंगवाहहैं.उन्होंनेदावाकियाकिउनकागायबहोनाएक‘‘साजिश’’हैजिसेसत्तारूढ़पार्टीने‘‘सत्ताधारियों’’कोबचानेकेलियेरचाहै.

खिड़कीकीग्रिलतोड़करभागीथीं

समाजकल्याणविभागकेनिदेशकराजकुमारनेबताया,‘मोकामास्थितआश्रयगृहसेशनिवारतड़केतीनबजेसेसाढ़ेतीनबजेकेबीचसातनाबालिगलड़कियांएकखिड़कीकीग्रिलतोड़करभागगईं.यहांउनकेहिंसकव्यवहारकोसुधारनेकीकवायदचलरहीथी.उन्होंनेकहाकिअभीयहपतालगायाजानाबाकीहैकिक्याइनलड़कियोंमेंमुजफ्फरपुरबालिकागृहकीलड़कियांभीथीं.राजधानीपटनासेकरीब100किलोमीटरकीदूरीपरस्थितआश्रयगृहसेफरारहुईलड़कियोंकोपतालगानेकेलियेश्वानदस्तेऔरफॉरेंसिकविशेषज्ञोंकीमददलीजारहीहै.

विपक्षनेसाधानिशाना

इसबीचविधानसभामेंविपक्षकेनेतातेजस्वीयादवनेट्वीटकिया,‘‘मुख्यमंत्रीसमेतपूरेतंत्रकोबचानेकेलिएमुजफ्फरपुरबलात्कारकांडकीपांचगवाहलड़कियांमोकामाशेल्टरहोमसेग़ायबकीगयीं.भगवानइनअनाथबच्चियोंकोदरिंदोंसेबचाए.कालेपापसेकिएकालेमुंहकोबचानेकेलिएसत्ताधारियोंकोक्या-क्यानहींकरनापड़रहाहै?’’

यादवकीमांऔरविधानपरिषदमेंविपक्षकीनेताराबड़ीदेवीनेकहा,‘मुख्यमंत्रीनीतीशकुमारकोयहबतानाचाहिएकिवहइतनेडरेहुएक्योंहैं.रालोसपाप्रमुखउपेंद्रकुशवाहानेइसघटनापरनीतीशकुमारसरकारकीनिंदाकीहै.कांग्रेसविधानपार्षदप्रेमचंद्रमिश्रानेकहा,‘ऐसालगताहैकिमुजफ्फरपुरमामलेमेंकुछलोगोंकोबचानेकाप्रयासकियाजारहाहै.उच्चतमन्यायालयकोमोकामासेलड़कियोंकेगायबहोनेपरसंज्ञानलेनाचाहिए.