भारत के लिए 2020 को आंतरिक खोज के साल के तौर पर जाना जाएगा : मोदी

नयीदिल्ली,30नवंबर(भाषा)प्रधानमंत्रीनरेंद्रमोदीकेमुताबिककोविड-19महामारीनेभारतकेराष्ट्रीयचरित्रकोपूरीदुनियाकेसामनेरखाऔर2020कोबाहरीव्यवधानकेबजाएआंतरिकखोजकेलिएजानाजाएगा।उन्होंनेकहाकिदुनियाभरमेंलोगोंनेआश्चर्यजतायाकिकिसतरहभारतीयोंनेचाहेगरीबहोयाअमीर,युवायावृद्ध,ग्रामीणयाशहरी,सबनेअप्रत्याशितसंकटकेसमयजिम्मेदारी,अनुशासितरवैयादिखायाऔरकानूनकापालनकिया।मोदीनेमनोरमाइयरबुक2021केलिएएकखासआलेखमेंलिखाहै,‘‘महामारीकेकारणकोई2020कोबाहरीव्यवधानकावर्षकहसकताहै।लेकिनमेराअटूटविश्वासहैकि2020कोबाहरीव्यवधानकेवर्षकेतौरपरनहींबल्किहमारेसमाजऔरहमारेराष्ट्रकेलिएआंतरिकखोजकेतौरपरजानाजाएगा।’’कईभारतीयदवाकंपनियांकोरोनावायरसकाटीकाविकसितकरनेकेलिएकामकररहीहैं।केंद्रीयस्वास्थ्यमंत्रालयकेआंकड़ोंकेमुताबिकदेशमेंसोमवारतककोविड-19के94लाखसेज्यादामामलेआचुकेहैंऔरइनमेंसे88,50,000लोगठीकहोचुकेहैं।संक्रमणकेकारणअबतक1,37,139लोगोंकीमौतहुईहै।आलेखमेंमोदीनेकहाकिमुश्किलपरिस्थितियोंकेबीचभारतनाकेवलदृढ़बनारहाबल्किदुनियाकीभीमददकी।उन्होंनेकहा,‘‘भारतनेदुनियाभरमें,दूरदराजवालेक्षेत्रोंमेंजीवनरक्षकदवाइयांभेजींऔरअपनेलोगोंकेलिएभीइसकीकमीनहींहोनेदी।’’प्रधानमंत्रीनेलिखाहै,‘‘महामारीकेबादकोविड-19केहमारेयोद्धाऔरमजबूतहोकरउभरेंगेऔरभारतकानेतृत्वकरेंगे।युद्धस्तरपरउल्लेखनीयप्रयासोंकेकारणपीपीईउत्पादनमेंभारतआत्मनिर्भरहोगया।’’प्रधानमंत्रीनेकहाकिएंबुलेंसड्राइवरोंसेलेकरदवादुकानदारों,सुरक्षाकर्मियोंसेलेकरपड़ोसकेदुकानदारोंजैसेअनगिनतगुमनामनायकोंनेसामाजिकदूरी,मास्कपहननेऔरडिजिटलभुगतानकोअपनाकरकठिनहालातमेंभीहमारीजिंदगीकोआसानबनाया।मोदीनेकहाकिविभिन्नक्षेत्रोंमेंसुधारकदमोंसेदेशकीविकासयात्राकोमजबूतीमिलीहै।‘आत्मनिर्भरभारत’केमहत्वकोरेखांकितकरतेहुएउन्होंनेकहाकिइसकामतलबहैकिभारतऔरप्रतिस्पर्धीहोगयाहै,ऐसाभारतजोज्यादाउत्पादकहैतथाऐसाभारतजोस्थानीयप्रतिभाकासम्मानकरताहै।उन्होंनेकहा,‘‘आत्मनिर्भरभारतसेवैश्विकआपूर्तिकड़ीमेंभारतकीभूमिकाबढ़ेगी।ज्यादावैश्विककारोबारभारतकीनीतियों,कमदर,कुशलमानवसंसाधनोंकाफायदाउठानेकेलिएआएंगे।’’मोदीनेलिखाहैकिकोविड-19महामारीनेदिखायाहैकिप्रौद्योगिकीएकसेतुकाकामकरसकतीहै।वैश्विकशिखरसम्मेलन,बहुराष्ट्रीयकंपनियोंतथाहरकिसीकाकामऑनलाइनहुआहै।प्रधानमंत्रीनेकहाकिउनकादृष्टिकोणहैकिआगामीवर्षमेंप्रोद्यौगिकीमेंआत्मनिर्भरतापरऔरध्यानदियाजाएगा।मुख्यसंपादकमैमनमैथ्यूनेकहाकिइयरबुकमें25खंडहैंऔरकोविडकेबादकेदौरकेकरियरकेबारेमें,भारतीयअर्थव्यवस्थापरकोविडकेकारणपड़ेबोझ,‘वर्कफ्रॉमहोम’,भारत-पाकऔरचीन-भारतसंबंधोंसमेतकईविषयोंपरइसमेंआलेखहैं।