बारह बजते झूमे ईसाई समुदाय के लोग, आकर्षक ढंग से सजा चर्च

मोतिहारी।सोमवारकीरातईसाईसमुदायकेलोगोंकेलिएखुशियोंभरारहा।समुदायकेलोगकईदिनोंसेइसदिनकीप्रतीक्षामेंथे।समुदायकेलोगोंकोरातकेबारहबजनेकाबेसब्रीसेइंतजारथा।बारहबजनेसेपूर्वचर्चमेंलोगएकत्रितहुए।महिला-पुरूषवबच्चेकाफीसंख्यामेंचर्चमेंउपस्थितथे।घड़ीकीसूईनेजैसेहीबारहबजाईलोगएक-दूसरेकोहैप्पीक्रिसमसकीबधाईयांदेनेमेंजुटगए।सभीकेचेहरेपरखुशियोंकाभावदिखरहाथा।क्रिसमसकोलेचर्चकोआकर्षकढंगसेसजायागयाथा।बेहतरलाइ¨टगसेचर्चकीसुंदरतादेखतेहीबनरहीथी।क्रिसमसकोलेकरशहरकेरेस्टोरेंटवपार्कभीसजकरतैयारहोचुकेहैं।हालांकिइसदिनचर्चमेंलोगोंकीभीड़ज्यादाउमड़तीहै।बरियारपुरस्थितसंतफ्रान्सिसअसीसीचर्चपरिसरकोपूरीतरहसजादियागयाहै।चर्चकेअंदरजानेमेंकिसीप्रकारकीपरेशानियांनहींहोइसकेलिएबैरियरलगायागयाहै।क्रिसमसकोलेकरजिलाप्रशासनभीचौकसहै।चर्चकेअंदररंग-बिरंगेतारेऔरझालरलगाएगएहैं।चर्चपरिसरमेंप्रभुयीशुकेजन्मसेसंबंधितगोशालाबनाईगईहैजहांमदरमेरी,जोसेफ,बालकयीशुएवंअन्यप्रकारकीमूर्तियांरखीगईहै।चर्चमेंघंटीबजनेकेसाथयहस्पष्टहोजाताहैकियीशुकाजन्महोगयाहै।सोमवारकीरातपवित्रमिस्सापूजाकीगई।चर्चकेफादरकुलदीपनेपवित्रमिस्साबलिचढ़ाया।पवित्रमिस्सापूजाकेबादलोगोंनेएक-दूसरेकोहैप्पीक्रिसमसकीबधाईदी।फादरविलियमनेकहाकिमानवजातिकेइतिहासमेंईसामसीहकाजन्मसबसेमहत्वपूर्णहै।प्रभुयीशुकाजन्मप्रेमवशांतिकेलिएहुआ।मौकेपरउपस्थितसभीलोगोंकोकेकदियागया।इसअवसरपरबड़ीसंख्यामेंईसाईसमुदायकेलोगमौजूदरहे।

-बच्चोंनेक्रिसमसगीतोंपरदीमनमोहकप्रस्तुतिसीएसडीएवीकेप्रांगणमेंक्रिसमसदिवसहर्षोल्लासपूर्णमनायागया।कार्यक्रमकीशुरूआतछोटे-छोटेबच्चोंद्वाराक्रिसमसगीतगाकरकीगई।कार्यक्रममेंछोटे-छोटेसांताक्लॉजकारूपधारणकरस्कूलकेसभीछात्रोंकोउपहारस्वरूपचॉकलेट,पेन,पेंसिलबांटे।विद्यालयकेअक्षितामिश्रा,अजरा,आदया,चाहत,रिश्ता,अपर्णा,मिहिक,पलक,तेजस्वी,अर्जितकेसाथअन्यछात्रोंनेसांताक्लॉजकारूपधारणकरक्रिसमसकाआनंदलिया।प्राचार्यप्रणवकुमारकेमार्गदर्शनमेंस्कूलकेसभीशिक्षकएवंकर्मचारीनेअपनीसहभागितासेइसकार्यक्रमकोसफलबनाया।

वहीदूसरीओरशहरकेबरियारपुरएनएचस्थितवीकेइंटरनेशनलपब्लिकस्कूलमेंसोमवारकोक्रिसमसकेमौकेपरविभिन्नकार्यक्रमोंकाआयोजनकियागया।उद्घाटनसंस्थाकेचेयरमैनविनयकुमारशर्मानेकिया।श्रीशर्मानेकहाकिकिताबीज्ञानकेसाथबच्चोंकेसंपूर्णव्यक्तित्वविकासहेतुसांस्कृतिककार्यक्रमोंवखेलमेंभीउनकीभागीदारीआवश्यकहै।बच्चोंनेक्रिसमससंबंधीकईगीतोंपरनृत्यकिए।छात्राखुशी,गुलअफसां,आराध्या,अर्चना,गौसिया,आलिया,²श्या,काजल,आफिजा,राजनंदिनी,रोशनीसहितछात्रअयानशर्मा,आलिम,अभिजीत,श्रेयांश,प्रतीक,आदर्श,मयंककीप्रस्तुतिबेहतररही।वहींसांताक्लॉजकीभूमिकामेंयशनेबच्चोंकेबीचउपहारबांटे।संचालनशिक्षकगजमेरवधन्यवादज्ञापनप्राचार्यअंजनीकुमारनेकिया।मौकेपररेणुशर्मा,सृजनागजमेर,अल्का¨सह,कंचनउपाध्याय,विनिताकुमारी,सुष्मिता,शालिनी,दीक्षाकुमारी,प्रियंकापांडेय,दिलीपकुमार,विकासकुमार,रोशनकुमार,राजेशकुमारआदिमौजूदथे।