अवैध जल दोहन रोकने के लिए दिल्ली सरकार को एसओपी लागू करने के निर्देश

नयीदिल्ली,14जुलाई(भाषा)राष्ट्रीयहरितअधिकरणनेराष्ट्रीयराजधानीमेंअवैधभूजलदोहनरोकनेकेलिएदिल्लीसरकारकोमानकसंचालनप्रक्रिया(एसओपी)लागूकरनेकानिर्देशदियाहै।एनजीटीअध्यक्षन्यायमूर्तिआदर्शकुमारगोयलकीअध्यक्षतावालीपीठनेकहाकि15फीसदीभूजल40मीटरसेनीचेपहुंचगयाहै।अधिकरणकोबतायागयाकिपर्यावरणविभाग,दिल्लीसरकारने‘भूजलदोहनकेनियमन,बोरवेल/ट्यूबवेलकेइस्तेमालसेजुड़ीअवैधगतिविधियोंकोबंदकरने,प्रतिबंधितकरने’केनामसेएकएसओपीतैयारकियाहै।हरितपैनलकोसूचितकियागयाकिएसओपीमेंस्पष्टतौरपरजिम्मेदारीतयकीगईहैजोदिल्लीजलबोर्ड,स्थानीयनिकायों,प्रखंडविकासपदाधिकारियोंकोदीगईहैताकिवेअवैधबोरवेलकीपहचानकरें।दिल्लीसरकारनेकहा,‘‘हरजिलेकेलिएएकअंतरविभागीयसलाहकारसमितिबनाईगईहैजोउपायुक्तोंकासहयोगकरेगी।देखागयाहैकिअवैधबोरवेलखोदनेमेंड्रिलिंगमशीनकाइस्तेमालकियाजाताहै।’’इससेपहलेअधिकरणने‘‘टैंकरमाफिया’’द्वारामहानगरमेंभूजलदोहनकरनेकीलगातारमिलरहीशिकायतोंपरचिंताजताईथी।अधिकरणमहानगरकेनिवासीराकेशकुमारकीयाचिकापरसुनवाईकररहीथी,जिन्होंनेआरोपलगाएकिजलभरनेवालेसंयंत्रबिनालाइसेंसकेचलरहेहैंऔरयहांकश्मीरीगेटइलाकेमेंनिवासियोंकोदूषितजलकीआपूर्तिकररहेहैं।