अत्यंत पिछड़ा वर्ग को कमजोर करने का प्रयास कर रही सरकार

मधुबनी।अतिपिछड़ावर्गपदाधिकारीएवंकर्मचारीकल्याणसमितिकेतत्वावधानमेंजिलाकमिटीद्वारास्थानीयप्राथमिकशिक्षकसंघभवनकेसभागारमेंजननायककर्पूरीठाकुरकेविचारधाराएवंवर्तमानकीचुनौतियोंपरएकसेमीनारकाआयोजनकियागया।जिसकीअध्यक्षताप्रो.ब्रजकिशोरभंडारीनेकियाजबकिसंचालनशिक्षकनेताअरूणकुमारचौधरीनेकिया।इसअवसरपरविजयकुमारचौधरीनेकहाकिकर्पूरीठाकुरसरकारकेबादवालीसरकारोंनेअत्यंतपिछड़ावर्गकोकमजोरकरनेकाप्रयासकियाहै।अतिपिछड़ावर्गकेउत्थानकेलिएउनकायोगदानसराहनीयरहाहै।जेएनयूकेव्याख्याताप्रो.सुबोधनरायणमालाकारनेअतिपिछड़ाकेउत्थानकेलिएलोगोंकोजागरूकएवंशिक्षितहोनेकाआह्वानकरतेहुएकहाकिकेंद्रवराज्यसरकारकेअतिपिछड़ाविरोधीनीतिकेकारणआजइसवर्गकेलोगोंकाहालबूराहै।प्रो.अनिलकुमारसहनीनेकहाकिअतिपिछड़ाजातियोंकोएकवर्गमेंआनेकीजरूरतहै।ललनभगतनेकहाकिराज्यसरकारकेशिक्षानीतिकेदोहरीकरणपर¨चताव्यक्तकिया।शिक्षकनेताअरूणकुमारचौधरीनेकहाकिअतिपिछड़ासमाजकीउन्नतिनहीहोनेकाकारणहैकिसमाजिकएवंराजनैतिकनेताअपनीजिम्मेवारीकानिर्वाहननहीकरपारहेहै।इसलिएबुद्धिजीविवर्गआगेआकरधर्मकापालनकरनाचाहिए।प्रो.ब्रजकिशोरभंडारीनेकहाकिइसवर्गकेलोगएकजुटनहीहैजिसकोसमन्वयकिएबिनाजोकहसंविधानकेद्वारामिलाहुआहैवहअसंभवहै।जिसकेलिएसंघर्षकीजरूरतहै।मौकेपरडा.रामबहादूरकामत,पंकजकुमारचौधरी,निलेन्दूकुमार,साबिरहुसैन,नेसारअहमदमौजूदथे।