अतीत के आईने सेः दिल्ली की इस सीट पर बाहरी उम्मीदवारों को ही मिली है जीत

नईदिल्ली[स्वदेशकुमार]।उत्तर-पूर्वीदिल्लीलोकसभासीटकागठन2009मेंहुआथा।2019काचुनावइससीटकेलिएतीसराहै।इससेपहलेदोचुनावोंमेंबाहरीउम्मीदवारोंकाहीजलवारहाहै।दरअसलयहपरिपाटीभीइससीटकोविरासतमेंमिली।पहलेयहक्षेत्रपूर्वीसीटमेंसमाहितथा।

2004मेंपूर्वीदिल्लीसीटपरतत्कालीनमुख्यमंत्रीशीलादीक्षितकेबेटेसंदीपदीक्षितउम्मीदवारकेतौरपरउतरे।वहबाहरीथे।उनकेसामनेथेभाजपाकेस्थानीयनेतालालबिहारीतिवारी।इसचुनावमेंसंदीपदीक्षितकोजीतमिली।इसकेबादअगलेचुनावमेंउत्तर-पूर्वीदिल्लीसीटअलगबनगई।विरासतसंभालतेहुएइससीटनेएकबाहरीकोयहांसेसांसदबनाया।

इससीटपर2009केपहलेचुनावमेंचांदनीचौकसेसीटबदलकरकांग्रेसकेनेताजेपीअग्रवालपहुंचेथे,जोयहांकेलिएबाहरीथे।उनकेसामनेथेबीएलशर्मा(प्रेम)।बीएलशर्मानेभाजपाछोड़दीथी,लेकिनइसचुनावसेठीकपहलेवहपार्टीमेंआगएऔरउन्हेंयहांसेजेपीअग्रवालकेसामनेटिकटभीमिलगया।येभीबाहरीथे।मुकाबलाइन्हींदोनोंकेबीचथा।इसचुनावमेंजेपीअग्रवालको5,18,191वोटमिलेथे,जोकुलमतदानकाकरीब59फीसदथा।वहींबीएलशर्माको33फीसदमतप्राप्तहुएथे।

इसकेबाद2014केचुनावमेंआप,कांग्रेसऔरभाजपाकेतीनोंउम्मीदवारबाहरीथे।आपसेप्रोफेसरआनंदकुमार,कांग्रेससेजेपीअग्रवालऔरभाजपासेमनोजतिवारीमैदानमेंउतरे।तीनोंहीबाहरीथे।इसबारआपनेएकबारफिरबाहरीपरदांवलगायाहै।आपसेदिलीपपांडेयमैदानमेंउतरचुकेहैं।भाजपासेफिरसेमनोजतिवारीकेमैदानमेंउतरनेकीअटकलेंहैंतोदूसरीओरकांग्रेसकाआपसेगठबंधनहोनेकीचर्चाहै।