अर्थशास्त्री बोले-विकास पर केंद्रित है आम बजट

देवरिया:बीआरडीपीजीकालेजमेंअर्थशास्त्रकेएसोसिएटप्रोफेसरराजीवकुमारसिंहबजटआशाकेअनुरुपनहींरहा।अर्थव्यवस्थामेंवीशेपमेंरिकवरीकेलिएनिजीखर्चबढ़ाकरमांगमेंवृद्धिकरनेकेलिएमध्यमवर्गकोकरमेंछूटकीउम्मीदथी,खासकरआयकरकीधारा80सीमें।कोरोनाकालमेंजिम्मेदारियोंकोदेखतेहुएयहकहाजासकताहैकियहबजटविकासकेंद्रितहै।सामाजिकसमावेशनकोबढ़ानेवालाहै।बजटमेंजानवजहानदोनोंकीचिताकीगईहै।

आर्थिकमामलोंकेजानकारअजयतिवारीनेबतायाकिकोरोनामहामारीसेदेशकीअर्थव्यवस्थाप्रभावितहुईहै।इसकेचलतेआर्थिकदवाबसेउबरनाचुनौतीहै।सरकारनेबजटमेंस्वास्थ्य,इंफ्रास्ट्रक्चरवरिफार्मकेजरिएअर्थव्यवस्थाकोपटरीपरलानेकाप्रयासकियाहै।बजटमेंजीवनवआजीविकाबचानेपरजोरदियाहै।कोईनयाटैक्सनलगाकरइंडस्ट्रीकोराहतप्रदानकीहै।राजकोषीयघाटेकीपरवाहकिएबिनासरकारीखर्चबढ़ानेकाफैसलालियाहै।इससेजनताकेघावपरमरहमलगाहै।राज्यकर्मचारियोंनेभीबजटकोसराहा

राज्यकर्मचारीरामप्रतापसिंहनेकहाकिकोरोनाकालकेकारणदेशआर्थिकचुनौतियोंसेनिपटनेमेंलगाहैं।ऐसेमेंकेंद्रीयबजटकोसंतुलितकहाजाएगा।बजटमेंटैक्सस्लैबमेंबदलावकीहमउम्मीदकररहेथे।

मनोजकुमारनेकहाकिकर्मचारियोंकोहरसालकेबजटमेंबड़ीउम्मीदेंरहतीहैं।इसबारभीहमउम्मीदकिएथेलेकिनसरकारनेविपरीतपरिस्थितिमेंबजटपेशकियाहै।

अशोककुमारनेकहाकिटैक्ससेछूटकादायरापांचलाखसेबढ़ानेवपुरानीपेंशनबहालीकेलिएसरकारकोकदमउठानाचाहिएथा।कर्मचारीइसकेलिएबजटमेंउम्मीदकररहेथे।

अमरेशनेकहाकिबजटमेंसेवानिवृत्तकर्मचारियोंकोमामूलीराहतमिलीहै।सरकारने75वर्षउम्रतककेसेवानिवृत्तकर्मचारियोंकोआयकरमेंछूटदीहै।