अपराधी नहीं, अपराध की संस्कृति को समाप्त करना जरूरी: डीजीपी

जासं,छपरा:डीजीपीगुप्तेश्वरपांडेयनेकहाकिसूबेकीसरकारकासंकल्पहैसुशासन।सुशासनकामतलबबसअपराधसमाप्तकरनेसेनहींअपराधकीसंस्कृतिकोसमाप्तकरनेसेहै।अपराधीकोसमाप्तकरनाआसानहैलेकिनजरूरतअपराधकीसंस्कृतिकोसमाप्तकरनेकीहै।पुलिसअपराधियोंसेलड़सकतीहै।लेकिनअपराधकीसंस्कृतिसेलड़नेकेलिएआमलोगोंकोभीसाथआनाहोगा।डीजीपीगुरुवारकोइंडियाबुलियनएंडज्वेलर्सएसोसिएशनकीसारणइकाईकेगठनसमारोहकेउद्घाटनकेबादबोलरहेथे।

उन्होंनेकहाकिजाति,धर्म,मजहब,संप्रदाय,दलरिश्तेदारकेनामपरअपराधियोंकोसंरक्षणदियाजाताहै।इससेअपराधकीसंस्कृतिबढ़तीहै।अपराधीनहिदूहोताहैनामुसलमानहै।अपराधीबसअपराधीहोताहै।अपराधीअपनीसुरक्षाकेलिएजाति,दल,मजहबकीछतरीओढ़लेताहै।

डीजीपीनेकहाकिव्यवसायीसमाजकेलोगसुरक्षाचाहतेहैं।शांतिसेव्यवसायचाहतेहैं।उन्होंनेआश्वासनदियाकिपुलिसआपकीसुरक्षाकेलिएतत्परहै।जबआपहमेंखोजेंगे।जहांखोजेंगे।जिसस्थितिमेंखोजेंगेहमआपकेसाथखड़ेरहेंगे।मैंआपकेपरिवारकासदस्यहूं।

इसअवसरपरसारणइकाईकेअध्यक्षवरुणप्रकाश,सचिवओमप्रकाशगुप्ताऔरकोषाध्यक्षराजेशप्रसादबनाएगए।

कार्यक्रमकासंचालनअभिषेकअरुणनेकिया।वहींस्वागतभाषणप्रदेशअध्यक्षअशोककुमारवर्मानेकिया।इसअवसरपरडीआइजीविजयकुमारवर्मा,एसपीपुलिसकप्तानहरकिशोरराय,अमरपाल,गोदरेजकेसुबोधश्रीवास्तव,विजयठाकुर,बइंडियाबुलियनएण्डज्वेलर्सएसोसिएशनकेप्रदेशअध्यक्षअशोककुमारवर्मा,अरुणगुप्ता,अमृतांजलीसोनी,प्रह्लादसोनी,मनोजवर्णवाल,मनोजकुमार,अश्विनीकुमार,राजेशगोल्ड,धीरजकुमार,राजनकुमार,रामनाथप्रसादआदिमौजूदथे।पांचलोगोंकोदियागयालाइफटाइमअचीवमेंटअवार्ड

कार्यक्रममेंडीजीपीद्वारासत्यनारायणप्रसादकोप्रथमबुलियनइंडस्ट्रीअवार्डसेनवाजागया।वहींपवनकुमार,अरुणकुमारगुप्ता,अनंतप्रसादऔरराजेशकुमारगुप्ताउर्फमिनीबाबूकोलाइफटाइमअचीवमेंटअवार्डसेसम्मानितकियागया।