अंतत: भारतीय योग को संपूर्ण विश्व ने स्वीकारा

संवादसहयोगी,साहिबगंज:आजादीकेअमृतमहोत्सवसेशुरू75करोड़सूर्यनमस्कारअभियानकासमापनरविवारकोहोगया।साहिबगंजमेंअंतिमदिनरविवारकोरेलवेइंस्टीट्यूटमेंमुख्यसमारोहहुआ।इसमेंशहरवासियोंनेउत्साहकेसाथसूर्यनमस्कारकिया।क्रीड़ाभारतीकेबैनरतलेआयोजितकार्यक्रमकाशुभारंभआरएसएसकेविभागप्रचारकबिगेंद्रकुमार,समाजसेवीबजरंगीप्रसादयादव,कुश्तीकोचनमिताकुमारी,संस्कारभारतीकीडा.ममताविद्यार्थीवप्रो.रणजीतसिंहनेसंयुक्तरूपसेदीपजलाकरकिया।

आरएसएसकेजिलाकार्यवाहसुनीलकुमारऔरजिलाशारीरिकप्रमुखकृष्णबल्लभनेलगभग3000कीसंख्यामेंसूर्यनमस्कारकराया।आरएसएसकेविभागप्रचारकबिगेंद्रकुमारनेकहाकियोगभारतकीपहचानरहीहै।सूर्यनमस्कारसेगौरवशालीऔरवैभवशालीभारतकानिर्माणकरनाहै।स्वास्थ्यहमारीमहत्वपूर्णजरूरतहै।आजकोरोनासंक्रमणकालमेंभीपूरीदुनियामेंभारतकेयोगकोस्वीकारकियागया।सूर्यनमस्कारकेजरिएआपअपनेशरीरकोस्वस्थरखसकतेहैं।

बजरंगीयादवनेकहाकिहमप्रणलेकिपहलेयोगकरेंगेतबभोजनग्रहणकरेंगे।इसअवसरपरसेवाभारती,विद्याभारतीगंगासमग्र,अखिलभारतीयविद्यार्थीपरिषद,भाजपा,संस्कारभारती,राष्ट्रीयसेविकासमिति,वनवासीकल्याणकेंद्रसहितसभीसंगठनोंकेकार्यकर्तामौजूदथे।वृत्तसंकलनकर्ताडा.सुरेंद्रनाथतिवारीनेबतायाकिइसमहायज्ञमेंकुलएकलाख63हजारसूर्यनमस्कारकियागया।लगभगदसहजारलोगोंकीसहभागितारही।कार्यक्रममेंसेवानिवृत्तबैंकअधिकारीकल्याणश्रीवास्तव,जन्मजयमिश्र,राजीवपांडेय,धर्मेंद्रकुमार,अन्नपूर्णाकुमारी,स्वातिमिश्रा,सुबोधकुमारझा,चंद्रमोहनकेसरी,संजयपटेल,गौतमयादव,विनोदचौधरी,राखीशर्मा,अमृताकुमारी,राष्ट्रीयखिलाड़ीनमिताकुमारी,अरुणविश्वकर्मा,महेशतिवारी,कृष्णाशर्मा,प्रोफेसरकमलमहावर,नीलमकुमारी,चंदनाकुमारी,देवजीतसिंहराठौर,कुमारदीपांशु,परितोषकुमारआदिमौजूदथे।मंचसंचालनजिलासंपर्कप्रमुखडॉक्टरसुरेंद्रनाथतिवारीनेकिया।