अमरनाथ हमला: मामले की त्वरित जांच के लिए J&K पुलिस ने किया SIT का गठन

श्रीनगर: अमरनाथयात्रियोंके बसपरहुएआतंकवादीहमलेकीजांचकेलिएजम्मूऔर कश्मीरपुलिसनेशुक्रवारकोउपमहानिरीक्षकरैंककेअधिकारीकेनेतृत्वमेंएकविशेषजांचदल(एसआईटी)कागठनकिया.तोवहींदूसरीतरफअमरनाथयात्रियोंपरहुएआतंकीहमलेसेबेखौफ4,000सेज्यादाश्रद्धालुआजपवित्रगुफामंदिरमेंबाबाबर्फानीकेदर्शनकरनेकेलिएयहांसेरवानाहुए.

मामलेकीत्वरितजांचकेलिएSIT कागठन

कश्मीरकेपुलिसमहानिरीक्षकमुनीरअहमदखाननेकहा,"इसअहममामलेकीत्वरितजांचकेलिएहमनेदक्षिणकश्मीरकेउपपुलिसमहानिरीक्षकएसपीपाणिकीअध्यक्षतामेंछहसदस्यीयएसआईटीकागठनकियाहै."एसआईटीकेअन्यसदस्योंमेंवरिष्ठपुलिसअधीक्षकअलताफअहमदखान,एकपुलिसउपाधीक्षकतथाअन्यअधिकारीशामिलहैं,जोजांचमेंसहायताकरेंगे.

अनंतनागजिलेमेंश्रीनगर-जम्मूराजमार्गपरबीती10जुलाईकोश्रीनगरसेजम्मूकीतरफजारहीअमरनाथयात्रियोंसेभरीएकबसपररात8.30बजेकेआस-पासआतंकवादीहमलाकियागयाथा,जिसमेंसाततीर्थयात्रियोंकीमौतहोगईथी,जबकि19अन्यघायलहोगएथे.

अमरनाथश्राइनबोर्डसे रजिस्टर्ड नहींथी बस

बसअमरनाथश्राइनबोर्डसेरजिस्टर्ड नहींथीऔरउसनेकथिततौरपरनियमोंकाउल्लंघनकियाथा.इसहमलेकेफौरनबादकश्मीरकेपुलिसमहानिरीक्षकनेकहाथाकिइसकेपीछेलश्कर-ए-तैयबाकाहाथहै.

पुलिसमहानिरीक्षकनेकहा,"प्रारंभिकजांचमेंयहखुलासाहुआहैकिपाकिस्तानकेअबुइस्माइलकेनेतृत्वमेंलश्करकेआतंकवादियोंकेसमूहनेहमलेकोअंजामदिया."

आतंकीहमलेकेबाद,अमरनाथयात्रियोंकीसंख्यामेंहुआइजाफा

10जुलाईकोअमरनाथयात्रियोंपरहुएहमलेकेबादसेश्रद्धालुओंकीसंख्यामेंबढ़ोतरीहुईहै.यहहमलाअनंतनागजिलमेंहुएथेजिसमेंछहमहिलाओंसहितसातयात्रियोंकीमौतहोगईऔर19जख्मीहोगएथे.जिसदिनआतंकीहमलाहुआउसदिन2,430यात्रीजम्मूसेअमरनाथकीपवित्रगुफामंदिरकेलिएरवानाहुएथे.दूसरेदिनयहसंख्याबढ़कर3,289होगई,12जुलाईको3,500और13जुलाईको3,971यात्रीजम्मूसेरवानाहुए.वहींआजयहसंख्याबढ़कर4,105होगई.

अधिकारीनेबतायाकिसीआरपीएफऔरपुलिसकीसुरक्षामें3,111पुरुष,892महिलाओंऔर102साधूतथासाध्वियोंकाजत्था191गाड़ियोंकेकाफिलेमेंआजसुबहबालटालऔरपहलगामआधारशिविरोंकेलिएरवानाहुआ.

‘बमबमभोले’केजयकारेलगारहेथेश्रद्धालु

भगवतीनगरआधारशिविरपरयात्रियोंनेआतंकीखतरेकीपरवाहकिएबिनापवित्रगुफामेंहिमशिवलिंगकेदर्शनकरनेकेलिएअपनीयात्राशुरूकरनेकाप्रणलिया.उनकाउत्साहदेखनेलायकथाऔरवह‘बमबमभोले’केजयकारेलगारहेथे.

चेन्नईकेकुमारराजानेकहा,‘‘यात्रियोंपरहुएहमलेकेबादमेरेपरिवारनेमुझसेघरवापसआनेकोकहा,लेकिनमैंनेउनसेकहाकिअमरनाथमेंदर्शनकरनेकेबादहीमैंघरलौटूंगाचाहेजीवितयामृत.मुझेखतरेकीपरवाहनहीं.भगवानशिवउसेदेखेंगे.’’इसयात्राकेशुरूहोनेसेलेकरअबतक1,77,134यात्रीबाबाबर्फानीकेदर्शनकरचुकेहैं.