अलीगढ़ नुमाइश में कुमार विश्वास ने मचाया धमाल, खूब गूंजे ठहाके

जागरणसंवाददाता,अलीगढ़:नुमाइश़मेंकोहिनूरमंचपरशनिवाररातअखिलभारतीयकविसम्मेलनमेंविख्यातकविकुमारविश्वासकेहास्यव्यंग्योंनेश्रोताओंकोखूबगुदगुदाया।प्रेमकीकविताकेसाथसांप्रदायिकसौहार्दवदेशभक्तिकासंदेशभीदिया।राजनेताओंपरखूबव्यंग्यबाणछोड़े।करीब12सालबादअलीगढ़आएकुमारविश्वासकोसुननेकेलिएलोगदेरराततकजुटेरहे।उनकीहमहैंदेशी..,कविताखूबपसंदकीगई।

कुमारविश्वासप्रस्तुतिदेनेकेलिएजैसेहीमंचपरपहुंचेऔरमाइकसंभाला,श्रोताओंसेभराकोहिनूरमंचतालियोंसेगूंजउठा।उन्हेंआतेहीगुदगुदानाशुरूकरदिया।बोले,मेरेकार्यक्रममेंभाजपावालेबहुतआतेहैं,उन्हेंलगताहैकियेवालानारियलटूटसकताहै।इशाराआपछोड़करभाजपामेंशामिलहोनेकीउम्मीदकोलेकरथा।मंचकेपासचायवालेकोदेखकरतंजकसाकिइसेमतरोकना।जिसनेचायवालेकोरोका,वोपानीकोतरसगया।कुमारनेप्रसिद्धकवियोंकाजिक्रकरअलीगढ़वासियोंसेखुदसेजोड़नाशुरूकिया।सामनेबैठेसांसदकोदेखकरबोले,मुझेकोईबताताहैकिअलीगढ़मेंकुछहोगयातोमैंकहताहूंकिसांसदहीहोगा।नुमाइशमेंप्रधानमंत्रीकाफोटोदेखकरचुटकीलीकिकभीमनमोहनसिंहकोतोनहींदेखा।

अन्यकवियोंकोमौकादेनेकेबादफिरमाइकसंभाला।फिर-किसीकेदिलकीमायूसीजहांसेहोकरनिकलीहै,हमारीसभीचालाकीवहींसेखोकरगुजलीहै..मुक्तकसुनाकरतालियांबटोरी।उन्होंनेएएमयूमेंराजामहेंद्रप्रतापवसरसैयदअहमदकेयोगदानकाबखानकिया।फिरखुदकोकोईसम्माननमिलनेपरचुटकीलीकिरोजकोसेंगेतोकहांसेमिलेगा।कृषिकानूनविरोधीआंदोलनपरकहाकिफुलवारीकोगमलोंमेंदेखनेवालेहीपूरीकौमपरउंगलीउठारहेहैं।कांग्रेसपरव्यंग्यकियाकिबहुमतनहींमिलातोबहूहीदिलादो।फिरचुटकीलीकि100रुपयेतेलहोगया,उसेभीपट्ठेएडजस्टकररहेहैंकिइससेराष्ट्रनिर्माणहोगा।

फिर-जख्मभरजाएंगेतुममिलोतोसही..,जख्मइतनेमिलेफिरसिलेहीनहीं।सुनाकरलोगोकोकवितासेजोड़ा।जड़ी-बूटीबेचनेवालेबाबापरतंजकसाकिउनकेनवरात्रकेलिएआएनमकपरलिखाथा-25लाखसालपुरानीहिमालासेनिकालानमक,नीचेलिखातोएक्सपायरी24अप्रैल।

कुमारनेआपपरभीतंजकसा।कहा,सर्जिकलस्ट्राइकपरहमारीफजीहतहोगई।हमनेकहदियाकिशहादतकासम्मानकरतेहैं,जबकिहमारेवालेसुबूतमांगलिए।अंतमें-एशियाकेहमपरिदे,आसमांहैजिदहमारी,जानतेहैंचांदसूरजजिदहमारीजदहमारी..।हमहैंदेशीहांमगरहरदेशमेंछाएंहम..।हमनेदुनियाकोगलेमिलकरशर्मिंदाकिया।जैसीकविताएंसुनाकरकाव्यपाठपूराकिया।

इन्होंनेभीकियाकाव्यपाठ

सम्मेलनमेंप्रसिद्धकवियत्रीअंजनासिंहसेंगरनेभीसुंदरमुक्तकपढ़े।उनकीकविता-जहांहरधर्म,भाषाजातिकोसम्मानमिलताहै,मोहब्बतकेइसीगुलशनकोहिदुस्तानकहतेहैं।आगरासेआएरमेशमुस्काननेप्रेमकीकविता,कोरोना,राजस्थानकेपशुसम्मेलनमेंकाव्यपाठकिया।दिल्लीसेआएहास्यकविअरुणनेअनोखीसरस्वतीवंदनाप्रस्तुतकरतालियांपाईं।