अब शारीरिक तौर पर अनफिट दरोगा नहीं होंगे थानाध्यक्ष

मोतिहारी।अबशरीरसेकमजोरवदौड़नेमेंकमजोरपड़नेवालेपुलिसअवरनिरीक्षकथानाध्यक्षनहींहोंगे।इसकेलिएअबजिलास्तरपरदौड़प्रतियोगिताहोगी।पुलिसअधीक्षकद्वाराआयोजितकीजानेवालीअपराधसमीक्षाबैठककेदिनजिलेकेसभीथानाध्यक्षोंकोबैठकसेपुलिसकेंद्रमैदानमेंदौड़लगानीहोगी।जांचकेइसदायरेमें2009बैचदरोगाआएहैं।बतायागयाहैकिसभीथानाध्यक्षोंकोदसमिनटमेंदोकिलोमीटरकीदूरीतयकरनीहोगी।इसकीशुरुआतइसीमहीने9फरवरीकोमासिकअपराधसमीक्षाबैठककेदिनहोगी।उसदिनसभीसंबंधितदरोगावर्दीकेअलावाट्रैकसुटभीअपनेसाथलाएंगे।बैठकसेपहलेवेदौड़लगानेकेलिएड्रेसअपहोकरमैदानमेंउतरेंगे।यहांहोनेवालीशारीरिकपरीक्षामेंशामिलहोनेकेबादबैठकमेंशामिलहोंगे।बतायागयाहैकिइसदौड़मेंफेलहोनेवालेदरोगाकीथानेदारीचलीजाएगी।इसप्रक्रियाकीबाबतपुलिसअधीक्षकनेजिलेकेसभीथानाध्यक्षवसंबंधितअधिकारियोंकोपत्रभेजाहै।कहाकिवेनिश्चिततौरपरअपनीतैयारीपूरीकरआएं।

फोटो:04एमटीएच38

अबशारीरिकतौरपरफिटलोगोंकोहीथानाध्यक्षबनायाजाएगा।इसकेलिएयहआवश्यकप्रक्रियाहै।दौड़मेंविफललोगथानाध्यक्षनहींरहेंगे।उनकीजगहफिटलोगोंकीतैनातीकीजाएगी।ताकिकिसीभीस्थितिमेंपुलिसकेअधिकारीदौड़लगानेमेंसक्षमहोसकें।

उपेंद्रकुमारशर्मा

पुलिसअधीक्षक,मोतिहारी(पूचं.)