अब औषधीय पौधों से गुलजार होगा एकाढ़ गांव

सहरसा।कोरोनाकालमेंऔषधीयपौधेकीबढ़ीखपतकोदेखतेहुएचंद्रायणपंचायतकेएकाढ़गांवकेलोगोंकेदिलोंमेंप्रकृतिप्रेमजगगयाहै।जीवनकोसुरक्षितरखनेकेसाथ-साथपर्यावरणसंरक्षणकेलिएपौधारोपणकानिर्णयलियाहै।गांवकेहरदरवाजेवघरोंकेआंगनमेंआनेवालेदिनोंमेंऔषधीयपौधेकापेड़नजरआएगा।

बैठककरग्रामीणोंनेलियानिर्णय

पूर्वमुखियाचंद्रभूषणरायकीअध्यक्षतामेंकृष्णमंदिरप्रांगणमेंग्रामीणोंकीएकबैठकहुई।बैठकमेंपर्यावरणसंरक्षणपरचर्चाकीगई।कहागयाकिकोरोनाकेदौरमेंनीमऔरगिलोयकीडिमांडकाफीबढ़ीहै।जिसकेकारणयहनिर्णयलियागयाहैकिगांवकेहरएकव्यक्तिकेदरवाजेपरनीमऔरगिलोय,आंगनमेंतुलसीकापौधासमेतअन्यपौधालगाएंगे।इसकार्यकेलिएयुवाओंकीएकटोलीबनाईगईहैजोपौधालगानेकेसाथ-साथलोगोंकोपर्यावरणकेप्रतिजागरूककरेगी।उपमुखियामुकेशकुमारअणुनेबतायाकिगांवकेयुवकबमबमकुमार,राहुलकुमारझा,रजनीशराय,चंदनकुमार,सौरवकुमारराय,सुनीलपंडित,पंकजरायआदिकोविभिन्नवार्डकीजिम्मेवारीदेतेहुएदरवाजेपरउपलब्धजमीनकेसर्वेकाकामसौंपागयाहै।नीम,गिलोय,तुलसी,आंवलाआदिकेपौधेलगानेकेसाथहीपौधेकेपोषणकेलिएभीयुवकोंकीजिम्मेवारीतयकीगईहै।

नीम-गिलोयकेफायदे

कृषिसमन्वयकबीकेमिश्रानेबतायाकिनीमएवंगिलोयकेपौधेऔषधीयगुणोंसेभरेहुएहैं।स्वच्छहवाकेसाथइनकीपत्तियांतनेजड़सभीमानवकेलिएउपयोगीहै।नीमसंक्रमणसेबचावत्वचाकेपुरानेरोगोंमेंफायदेमंदसांसकीबदबूदूरकरनेबुखारदांतों-मसूढ़ोंकीतकलीफमेंफायदेमंदहै।गिलोयज्वरनाशकभीकहाजाताहै।आंखोंकीरोशनीबढ़ानेपाचनदुरुस्तरखनेमोटापा,डायबिटीज,इम्यूनिटीबढ़ाने,सर्दीखांसीमेंफायदेमंदहोताहै।