आराम हुआ बहुत,अब करेंगे काम

कुशीनगर:लॉकडाउनकेदौरानघरआएतोलंबेअरसेबादपरिवारकेसाथरहनेकामौकामिला।गांवसेलेकरजवारकेलोगोंमेंइसबातकोलेकरखुशीरहीकिकमसेकमइसीबहानेतोसबलोगएकसाथहैं।अबलगभग64दिनघररहनेकेबादलोगवापसीकेलेकरट्रेनकारिजर्वेशनकरानेमेंलगेहैं।

सेवरहीविकासखंडकेगांवबसडीलाबुजुर्गनिवासीसुरमनपाठकवापसीकेलिए10कोशहीदएक्सप्रेसट्रेनसेजानेकेलिएरिजर्वेशनकराचुकेहैं।घरबैठेउबचुकेपत्नीवबच्चेभीसाथजानेकीजिदकररहेथे।इसलिएउनकाभीटिकटकरायाहूं।पंजाबकेफगवाड़ामेंटेक्सटाइलमिलमेंफोरमैनकेपदपरतैनातसुरमनकहतेहैंकिसेलरीसमेतअन्यभत्तेमिलाकर15से17हजाररुपयेमिलजातेहैं।इसकेअलावाकंपनीमेंरहनेवखानेकीसुविधाहै।कहतेहैंकिआरामबहुतहुआ,अबकामकरनेकीबारीहै।इसलिएजारहाहूं।लॉकडाउनमेंहीइसीगांवमेंससुरालआएअंगदचौबेहरियाणाकेगुड़गांवमेंसिक्योरिटीगार्डइंचार्जकेरूपमेंकामकरतेहैं।येमूलत:सिवानजिलास्थितगड़वारगांवकेरहनेवालेहैं।कंपनीकेबुलावाआनेपरचारजूनकोगोरक्षधामसेदिल्लीजानेकेलिएतैयारहैं।पत्नीसमेतपांचलोगवसालेगोपीनाथपाठककेपरिवारकेसाथयात्राकरेंगे।कहतेहैंकिपरिवारसहितरहनेमेंखर्चेअधिकहैं।सेलरीवअन्यभत्ते12से14हजारकेबीचमिलताहै।यहांरहते-रहतेसभीलोगउबचुकेहैं।अबकामपरलौटनेकीबारीहै।सालेकेबारेमेंबतायाकिवहहिसारमेंटेक्सटाइलमिलमेंकामकरतेहैंउनकीभीकंपनीनेबुलायाहै।इसलिएहमसभीलोगसाथजाएंगे।