52 लाख की प्रापर्टी डील मामले में कर्मचारियों की मिलीभगत की भी होगी जांच

-डीसीमनदीपसिंहबराड़नेएसडीएमसंधूकोकेसट्रांसफरकरजांचकरनेकेदिएनिर्देश

-गिरफ्तारआरोपितखुदकोडीसीकारीडरबता52लाखमेंकरवारहाथाबूथकीडील

जागरणसंवाददाता,चंडीगढ़:गतदिनोंएस्टेटआफिसमें52लाखरुपयेकीप्रापर्टीकीडीलकरतेपकड़ेगएडीसीकेफर्जीरीडरकेमामलेमेंविभागकेकर्मचारियोंसेभीअबपूछताछहोगी।डीसीमनदीपसिंहबराड़नेएसडीएमसेंट्रलहरजीतसंधूकोमामलेकीजांचकेआदेशदिएहैं।

जानकारीकेअनुसारपुलिसकीपूछताछमेंखुदकोडीसीकारीडरबतानेवालेवरिंद्रकुमारनेएस्टेटआफिसकेकुछकर्मचारियोंकेनामलिएहैं।इनकर्मचारियोंसेअबएसडीएमसेंट्रलहरजीतसंधूपूछताछकरेंगे।आरोपितवरिंद्रकुमारकोपुलिसनेन्यायिकहिरासतमेंभेजदियाहै।पुलिसनेवरिद्रकुमारकेखिलाफआइपीसीकीधारा-419,420,120-बीकेतहतकेसदर्जकियाहै।

शिकायतकर्ताबूथमालिकसेदोबाराहोगीपूछताछ

एसडीएमसेंट्रलहरजीतसंधूनेबतायाकिशिकायतकर्तासेक्टर-41डीकेबूथनंबर-134-135केमालिकखरड़निवासीसुभाषगोयलसेदोबारासेपूछताछहोगी।ताकियहपतालगायाजासकेकिविभागकाकोईकर्मचारीआरोपितवरिद्रकुमारकेसाथप्रापर्टीकीडीलकरानेकेलिएउससेमिलाहो।पुलिसकोदीशिकायतमेंगोयलनेबतायाथाकिउन्होंनेअपनेबेटेसुशांतगोयलकेलिएउनकेसाथवालेबूथनंबर-133कोदिलवानेकीबातकीथी।आरोपितवरिद्रकुमारनेखुदकोडीसीकारीडरबतातेहुएअपनानामविनोदकुमारबतायाथा।आरोपितनेइसबूथको52लाखरुपयेमेंदिलवानेकीबातकहीथी।

येहैपूरामामला

शिकायतकर्तागोयलनेबतायाकिआरोपितवरिंद्रकुमारने16से23जूनकेबीचउनसेपांचलाख90हजारकापहला,चारलाख72हजारकादूसरा,दोलाख50हजारकातीसराऔरएकलाख20हजारकाचौथाचेकलेकरडीसीआफिसआनेकेलिएकहाथा।जबशिकायतकर्ताचेकलेकर23जूनकोडीसीआफिसपहुंचा,तोआरोपितवरिंद्रकुमारनेकहाकिचेकनहींचलेगा,इसअमाउंटकाड्राफ्टबनवानापड़ेगा।आरोपितवरिंद्रकुमारने24जूनकोशिकायतकर्ताकोदोबाराडीसीआफिसबुलाया।24कोभीजबडीलनहींहुईतोउसने25जूनकोबुलाया।25जूनकोएसडीएमसेंट्रलहरजीतसंधूनेआरोपितवरिंद्रकुमारकोपकड़करपुलिसकेहवालेकरदिया।