18 वर्ष से कम उम्र के बच्चे बाइक न चलाएं

जागरणसंवाददाता,दुर्गापुर:पुलिसकीओरसेसड़कसुरक्षामाहचलरहाहै।इसमेंएकतरफजहांवाहनचालकोंकोट्रैफिकनियमोंकापालनकेलिएकहाजारहाहै।दूसरीओरछात्र-छात्राओंवआमजनताकोभीजागरूककियाजारहाहै।सड़कोंपरकाफीसंख्यामेंनाबालिगकिशोरकोबाइकचलातेदेखाजाताहै।ऐसेमेंबच्चोंकोजागरूककरनेकेलिएमूचीपाड़ाट्रैफिकगार्डकीओरसेदुर्गापुरकेनेपालीपाड़ाहिदीहाईस्कूलमेंजागरूकताशिविरकाआयोजनकियागया।ट्रैफिकनियमोंकापाठपढ़ायागया।छात्रभीशिविरकोलेकरकाफीउत्साहितथे।

ट्रैफिकअधिकारियोंने18वर्षसेकमउम्रकेछात्रोंकोबाइकनचलानेकीसलाहदी।वहींकिसीकोदुर्घटनामेंजख्मीअवस्थापरदेखनेपरतुरंतअस्पतालभेजनेकोकहा।यहभीबतायाकिअस्पतालपहुंचानेवालेकोपुलिसपरेशाननहींकरतीहै,बल्किहमसबकायहकर्तव्यहै।सहीसमयपरअस्पतालपहुंचनेपरजख्मीकोबचायाजासकताहै।छात्रोंकोट्रैफिकमेंइस्तेमालहोनेवालेलाल,पिलाएवंहरेसिग्नलएवंअन्यसंकेतोंकेबारेमेंजानकारीदीगई।प्राचार्यडा.कलीमुलहकसमेतअन्यलोगमौजूदथे।

ट्रैफिकपुलिसनेबसोंपरलगायास्टिकर

संवादसहयोगी,बेनाचिति:आसनसोल-दुर्गापुरकमिश्नरेटकेट्रैफिकपुलिसकीओरसेलगातारसड़कसुरक्षाकोलेकरजागरूकताअभियानचलरहाहै।मंगलवारकीसुबहएसीपीट्रैफिकतुहीनचटर्जीकेनेतृत्वमेंसिटीसेंटरबसपड़ावपरजागरूकताअभियानचलायागया।जहांबसचालकोंवकर्मियोंकोजागरूककियागया।वहींबसोंमेंसेफड्राइव,सेवलाइफकास्टिकरभीलगायागया।बसकर्मियोंकोएकफोननंबरभीदियागया,ताकिकोईसमस्याहोनेपरतुरंतपुलिससेसंपर्ककरे।एसीपीतुहिनचटर्जीनेबतायाकिदुर्गापुरशहरकेविभिन्नजगहपरट्रैफिकपुलिसकीओरसेजागरूकताअभियानचलायाजारहाहै।लोगोंकोसतर्ककियाजारहाहै।ताकिलोगतेजगतिसेगाड़ीनचलाएं,हेलमेटएवंसीटबेल्टकाउपयोगकरें।जेबराक्रासिगकेनियमोंकापालनकरेंएवंनशेमेंगाड़ीनचलाए।