11 लाख छात्रों को स्कूल खुलने का इंतजार..अब होगा समाप्त

बलवानशर्मा,नारनौल:परीक्षाओंकासमयसिरपरहै,लेकिनकोरोनाकीवजहसेछात्रोंकीपढ़ाईप्रभावितहोरहीहै।प्रदेशकेदसवीं,ग्यारहवींऔरबारहवींकक्षामेंकरीब11लाखविद्यार्थीस्कूलखुलनेकाबेसब्रीसेइंतजारकररहेहैं।प्रदेशमेंएकफरवरीसेदसवींसेबारहवींकक्षातकस्कूलखोलेजारहेहैं।ओमिक्रोनवायरसकेखतरेकेकमहोनेकेबादअबशिक्षाविभागबड़ेविद्यार्थियोंकोहीस्कूलोंमेंबुलानेजारहाहै।हालांकिइसकेलिए15सालसेअधिकउम्रकेविद्यार्थियोंकेलिएवैक्सीनलगाहोनाअनिवार्यहै।इसकेसाथहीविद्यार्थियोंकोअपनेमाता-पिताकीसहमतिभीदेनीजरूरीहै।

बातयदिहममहेंद्रगढ़जिलेकीकरेंतोजिलेमें95फीसदछात्रोंकोवैक्सीनलगाईजाचुकीहै।जिलेके15विद्यार्थीआठवींकक्षामेंभी15सालकीउम्रपूरीकरचुकेहैंऔरशिक्षाविभागनेइनछात्रोंकोभीवैक्सीनलगवादीहै।वर्तमानमेंप्रदेशकेसरकारीऔरगैरसरकारीस्कूलोंमेंकरीब11लाखछात्रपढ़ाईकररहेहैं।

आनलाइनभीपढ़ाईरहेगीजारी

शिक्षाविभागनेआनलाइनपढ़ाईकाभीविकल्पजारीरखनेकानिर्णयलियाहुआहै।जोछात्रअपनेघरोंमेंपढ़ाईकरनाचाहतेहैं,उन्हेंआनलाइनभीपढ़ायाजाएगा।--------

प्राइवेटस्कूलोंमेंछात्रसंख्या

सरकारीस्कूलोंमेंदसवींसेबारहवींकक्षातकछात्रसंख्या